नवाज ने किया ऐलान-ए-जंग, बोले – हम किसी से भी निपटने को तैयार

0

इस्लामाबाद। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने बंद लफजो में भारत को ललकारा है। उन्होंने कहा कि हम किसी भी आंतरिक या बाहरी खतरे से निपटने में पूरी तरह सक्षम है। हम किसी भी बाहरी शक्ति का जवाब देने में पूरी तरह से सक्षम हैं। हमारी सेना पूरी तरह से तैयार है। शरीफ ने एक उच्चस्तरीय बैठक में भाग लेने के बाद यह बात जोर देकर कही। वहीं, पीएम मोदी भी पाकिस्तान को लेकर सख्ती दिखा रहे हैं। उनकी हर बात का मुंहतोड़ जवाब दे रहे हैं। अगर बात युद्ध की रही तो उसमें भी वह पीछे नहीं हटेंगे।

नवाज शरीफ

नवाज शरीफ सहित कई बड़े अधिकारी बैठक में मौजूद

इस बैठक में नवाज शरीफ सहित सेना प्रमुख राहील शरीफ, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार नासिर जांजुआ और विदेश सचिव एजाज चौधरी भी शामिल थे। पाकिस्तान रेडियो की खबर के अनुसार, बैठक में ‘भारतीय क्षेत्र वाले कश्मीर में कथित तौर पर मानवाधिकारों के उल्लंघन पर गहरी चिंता जताई गई और भारतीय सुरक्षा बलों द्वारा शक्ति के बर्बर प्रयोग की कड़ी निंदा की गई।’

बैठक को संबोधित करते हुए नवाज शरीफ ने कहा कि दुनिया इस बात की गवाह है कि पाकिस्तान ने विश्व शांति के लिए जबर्दस्त कुर्बानी दी है और बहुत उकसाने के बावजूद पाकिस्तान ने बेमिसाल और अभूतपूर्व संयम बरता है। प्रधानमंत्री ने कहा कि सिंधु जल समझौता भारत और पाकिस्तान के बीच परस्पर सहमति से किया गया समझौता है जिसकी मध्यस्थता विश्व बैंक ने 1960 में की थी। कोई भी देश इस करार से एकतरफा खुद को अलग नहीं कर सकता।

उरी अटैक में 19 भारतीय जवान हुए थे शहीद

बता दें 18 सितंबर को पाक आतंकियों ने भारतीय सेना पर हमला कर दिया था जिसमें 19 जवान शहीद हो गए थे, जिसके बाद से ही दोनों देशों के रिश्ते के बीच कड़वाहट आ गई है। इसी वजह से भारत ने पाकिस्तान में होने वाले सार्क सम्मेलन में हिस्सा नहीं लेने का फ़ैसला कर पाकिस्तान को एक बेहद कड़ा संदेश दिया है और इस क्षेत्र में अलग थलग करने की कोशिश की है। हालांकि 15-16 अक्टूबर गोवा में होने वाले बिमस्टेक सम्मेलन में सभी सार्क देश हिस्सा ले रहे हैं, पाकिस्तान को छोड़कर। इसलिए ना सिर्फ कड़ा संदेश बल्कि पाकिस्तान के बिना क्षेत्रीय सहयोग को मज़बूत करने का भी भारत को जल्द ही मौक़ा मिल रहा है।

loading...
शेयर करें