नाभा जेल ब्रेक कांड में पुलिस को मिली कामयाबी, तीन आरोपी धरे गए

0

नई दिल्‍ली। पंजाब के नाभा जेल ब्रेक कांड में पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली है। पंजाब पुलिस ने दिल्‍ली से तीन उग्रवादियों को पकड़ा है। खबर मिली है कि उग्रवादियों ने बचने के लिए पुलिस पर फयरिंग भी की लेकिन वे भागने में सफल नहीं हो पाए।  

नाभा जेल ब्रेक कांड

नाभा जेल ब्रेक कांड में पुलिस की हुई थी किरकिरी

नाभा जेल से कैदियों को फरार कराने के मामले में पुलिस ने लाजपत नगर से तीन उग्रवादियों को गिरफ्तार कर लिया। पकड़े गए आरोपियों में चनप्रीत सिंह उर्फ चन्ना, हरजोत और रंजीत सिंह शामिल हैं। ये तीनों इस वारदात को अमली जामा पहनाने में शामिल थे।

पुलिस पर चलाई गई गोली

पुलिस ने जब एक गुप्त सूचना के आधार पर लाजपत नगर में छापा मारा तो उग्रवादी पुलिस को देखकर भागने लगे उन्होंने पुलिस पर गोली चलाने की कोशिश भी की लेकिन वे अपने मकसद में कामयाब नहीं हो पाए और पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया।

उग्रवादियों ने जेल गार्ड से छीनी थी बंदूक

पुलिस के मुताबिक चनप्रीत सिंह उर्फ चन्ना ने ही नाभा जेल के गार्ड से बंदूक छीनी थी। जेल तोड़कर भागने के आरोप से पहले ही इन तीनों पर पंजाब के मॉडल टाउन में एक डकैती की वारदात को अंजाम देने का आरोप है. जहां इन्होंने 10 लाख रुपये और सोना लूट लिया था। पुलिस ने बताय़ा कि उसी लूट के पैसे से इन लोगों ने जेल तोड़ने के लिए हथियार खरीदे थे। पुलिस अब इन तीनों उग्रवादियों से पूछताछ कर रही है।

चौंकाने वाला हुआ खुलासा

नाभा जेल से फरार कैदियों के मामले में एक बेहद चौंकाने वाला खुलासा हुआ था। जेल से फरार छह उग्रवादियों में से एक कुलप्रीत सिंह उर्फ नीता ने अपने फेसबुक पेज पर एक पोस्ट लिखी थी। नीता ने फेसबुक पर लिखा कि पंजाब पुलिस कथित रूप से भोपाल एनकाउंटर की तरह ही उनका भी एनकाउंटर करना चाहती थी।

नाभा जेल ब्रेक कांड में आईएसआई का हाथ

नाभा जेल ब्रेक कांड में आईएसआई की साजिश की बात भी सामने आई थी। पंजाब पुलिस सूत्रों की मानें तो हरमिंदर सिंह मिंटू को छुड़ाने के लिए पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई ने यह साजिश रची थी।

loading...
शेयर करें