भाई NSG का जवान और बहन बनी ISIS सदस्य….

0

तिरुवनंतपुरम: आपने अभी तक फिल्मों में ऐसा कई बार देखा होगा कि एक मां के दो औलाद होती हैं जिसमें से एक पुलिस अधिकारी बनता है और एक चोर। लेकिन अब ऐसा वास्तविक जीवन में देखने को मिल रहा है जहां सगे भाई-बहन ने दो अलग-अलग रास्ते चुने है एक तरफ जहां भाई ने देश सेवा का रास्ता चुना है तो वहीं बहन निमिशा आतंक का पर्याय बन चुके इस्लामिक स्टेट (ISIS) में शामिल हो गई है।

निमिशा

निमिशा अब फातिमा बन ISIS में हो गई शामिल

इन भाई बहन की मां अपनी 24 साल की बेटी निमिशा जो शादी के बाद धर्म परिवर्तन कर फातिमा बन गई, को लेकर दुखी भी है और चिंतित है। तिरुवंतपुरम में रहने वाली बिंदु ने मदद की गुहार लगाते हुए केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन का दरवाजा खटखटाया।

दरअसल, निमिशा का नाम उन 17 लोगों में शामिल है जो पिछले कुछ दिनों से केरल के कासरगोड़ जिले से लापता हैं। केरल पुलिस निमिशा की तलाश में जुटी ही थी कि इस मामले में गुमशुदा लोगों की तलाश में जुटी केंद्रीय जांच एजेंसियों ने बीते रविवार को जानकारी दी कि गायब लोगों में से एक महिला ने धर्म परिवर्तन कर उस शक्स से शादी कर ली है जो ISIS से जुड़ा है।

निमिशा उर्फ़ फातिमा का भाई प्रतिष्ठित सुरक्षा सेवा नेशनल सिक्यूरिटी गार्ड (एनएसजी) में तैनात है और देश सेवा में लगा हुआ है। मिली जानकारी के अनुसार, लापता फातिमा गर्भवती है। वहीं फातिमा की मां एमके बिंदू ने रविवार को मुख्यमंत्री पिनराई विजयन से मुलाकात की और मामले की जांच कराने का अनुरोध किया।

बिंदू कहती हैं कि मेरी बेटी निमिशा दूसरी लड़कियों की तरह ही थी। वह टीवी देखती थी। जाने किस बात से उसका ध्यान भटक गया। मेरे दोनों बच्चे देशभक्त और धार्मिक थे। बेटा शुरू से मिलेट्री में भर्ती होना चाहता था, जबकि बेटी ने अपनी पंसद से मेडिकल करियर चुना। वह आगे बतती हैं कि बीते नवंबर महीने में उन्हें कुछ आभास हुआ, क्योंकि उनकी बेटी अब फोन नहीं उठाती थी।

बिंदू आगे कहती हैं, ‘मैं जब बेटी से मिलने डेंटल कॉलेज पहुंची तो उसने मुझे बताया कि वह शादी करने के लिए मुस्लिम बन चुकी है। यह मेरे लिए शॉक जैसा था। निमिशा ने 30 साल के बैक्सि‍न विनसेंट से शादी की। वह एमबीए ग्रेजुएट था। उसने भी अपना धर्म बदला और इस्लाम कबूल कर एजा बन गया।’

loading...
शेयर करें