डिप्‍टी सीएम तेजस्‍वी बोले, मैं तो बच्‍चा था, कैसे कर सकता हूं घोटाला

0

पटना। बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने बुधवार को कैबिनेट की बैठक बुलाई थी। इस बैठक में डिप्‍टी सीएम तेजस्‍वी यादव और राज्‍य के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री तेज प्रताप यादव भी मौजूद रहे। नीतीश कुमार की कैबिनेट बैठक खत्‍म हो चुकी है।

नीतीश कुमार की कैबिनेट बैठक

नीतीश कुमार की कैबिनेट बैठक में सारे पहलुओं पर किया गया गौर

इस बैठक के बाद डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव ने बयान दिया है कि केंद्र की मोदी सरकार हमारे महागठबंधन से डरी हुई है और शुरू से उसे गठबंधन को तोड़ने और बदमान करने में लगी है। लेकिन यह गठबंधन टूटने वाला नहीं है।

अपने को बताया नाबालिग

डिप्‍टी सीएम तेजस्‍वी ने कहा कि जिस समय की यह घटना है उस समय मैं नाबालिग था। मैं कैसे घोटाला कर सकता हूं। उन्होंने कहा कि किस बात के लिए हमें सजा दी जा रही है। मैंने कोई गलत काम नहीं किया, 13, 14 साल का बच्चा राजनीतिक षड्यंत्र करेगा। अब जब मैं डिप्टी सीएम बना, सही काम कर रहा हूं तो फंसाया जा रहा है।

मोदी और अमित शाह के इशारे पर हुआ केस

सीबीआई के जरिए एफआईआर दर्ज करने को लेकर तेजस्वी ने कहा कि मोदी और अमित शाह के इशारे केस किया गया है। उन्होंने कहा कि झूठे और फर्जी आरोप हैं। मैं अपनी बात लेकर जनता के बीच जाऊंगा। मोदी जी को मुंहतोड़ जवाब देने का काम करेंगे।

नीतीश की मुश्किल

मौजूदा संकट के बीच नीतीश ने कल 28 जेडीयू नेताओं के साथ घंटों चर्चा की। इस बैठक में नीतीश के चेहरे पर सरकार की छवि की चिंता साफ झलक रही थी। नीतीश कुमार की बैठक में 26 नेता नीतीश के साथ खड़े थे। उनका कहना था कि नीतीश को अपनी छवि से कोई समझौता नहीं करना चाहिए। जबकि दो नेता लालू के साथ महागठबंधन को जारी रखने के पक्ष में थे।

loading...
शेयर करें