‘नोटबंदी के कारण त्रिपुरा बैंक का व्यापार घटा’

0

अगरतला। केंद्र सरकार द्वारा की गई नोटबंदी के कारण त्रिपुरा स्टेट को-ऑपरेटिव बैंक (टीएससीबी) का व्यापार घट गया है। बैंक शनिवार को अपना 60वां स्थापना दिवस मना रहा है। टीएससीबी के प्रबंध निदेशक स्वपन कुमार साहा ने संवाददाताओं से कहा, “इस वर्ष हमारा ऋण-जमा-अनुपात (सीडीआर) 57 प्रतिशत होना चाहिए था, लेकिन केंद्र सरकार द्वारा की गई बड़े नोटों की नोटबंदी के कारण हमारे बैंक का सीडीआर 52 प्रतिशत पर ही रह गया।”

नोटबंदी

नोटबंदी के कारण पैदा हुई समस्याओं से निपटने में कामयाब रहे हैं

साहा ने कहा, “हमें करीब 135 करोड़ रुपये मूल्य के 1,000 और 500 के अमान्य नोट प्राप्त हुए हैं। लोगों और अपने ईमानदार कर्मचारियों की मदद से हम नोटबंदी के कारण पैदा हुई समस्याओं से निपटने में कामयाब रहे हैं।” टीएससीबी के अध्यक्ष हरिपदा चक्रवर्ती ने कहा कि फिलहाल बैंक की अर्ध-नगरीय और ग्रामीण इलाकों में 63 शाखाएं हैं और इनका वर्तमान व्यापार 3,475 करोड़ रुपये का है।

उन्होंने कहा, “2008-09 से बैंक लाभ में रहा और पिछले वित्त वर्ष (2015-16) में बैंक का शुद्ध लाभ 20.56 करोड़ रुपये था। वर्तमान वित्त वर्ष (2016-17) में बैंक का 22 करोड़ रुपये लाभ का लक्ष्य है।” चक्रवर्ती ने कहा कि फिलहाल बैंक के 9,85,938 ग्राहक हैं और बैंक शीघ्र ही छह-सात नई शाखाएं खोलने जा रहा है। साथ ही लोगों की बढ़ती मांग को पूरा करने के लिए बैंक का आधुनिकीकरण करने की योजना भी है।

loading...
शेयर करें