बांग्लादेश का युद्ध कवर करने वाले मशहूर पत्रकार का निधन

अगरतला। मशहूर फोटो पत्रकार रबिन सेनगुप्ता का यहां लंबी बीमारी के बाद निधन हो गया। रबिन उन कुछ भारतीय पत्रकारों में शामिल थे, जिन्होंने 1971 के बांग्लादेश युद्ध का विस्तृत कवरेज किया था। वह 87 वर्ष के थे। सेनगुप्ता के परिवार में उनकी पत्नी, एक बेटा तथा एक बेटी है।

पत्रकार रबिन सेनगुप्ता

पत्रकार रबिन सेनगुप्ता के निधन पर असिस्टैंट हाई कमिशन के अधिकारी ने जताया शोक

मुख्यमंत्री माणिक सरकार, राजनीतिक दलों के नेताओं तथा बांग्लादेश असिस्टैंट हाई कमिशन के अधिकारी सेनगुप्ता के घर पर पहुंचे और उनके निधन पर शोक जताया। दिन में बाद में उनका अंतिम संस्कार कर दिया गया।

बांग्लादेश युद्ध में उनके योगदान के लिए उन्हें साल 2012 में लिबरेशन वार अवॉर्ड से सम्मानित किया गया था। युद्ध के दौरान ली गई उनकी तस्वीरें राष्ट्रीय तथा अंतर्राष्ट्रीय समाचार-पत्रों में प्रकाशित हुई थीं। सेनगुप्ता का जन्म सन् 1930 में अगरतला में हुआ था। उनके पूर्वज ढाका से थे, जो सन् 1840 में अगरतला में आ बसे थे। उन्होंने कई किताबें भी लिखीं। उन्होंने पूर्व सोवियत संघ तथा ब्राजील का दौरा किया था।

वह विचार से मार्क्‍सवादी थे और जवाहर लाल नेहरू तथा इंदिरा गांधी से उनकी व्यक्तिगत जान-पहचान थी। वह ज्योति बसु तथा ई.एम.एस.नंबूदिरीपाद जैसे वाम नेताओं के प्रशंसक थे।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button