पत्रकार हत्याकांड में जेडीयू सासंद संग चवन्‍नी सिंह का भी आया नाम

0

सीवान। सीवान के पत्रकार हत्याकांड में पुलिस ने ए‍क इंजीनियर को हिरासत में लिया है। खबर मिली है कि इस हत्‍याकांड में जेडीयू सांसद शहाबुद्दीन का नाम आया है। जिस व्‍यक्ति का पुलिस ने गिरफ्तार किया है वह जेडीयू सांसद का ही आदमी है।

पत्रकार हत्याकांड

पत्रकार हत्याकांड में चवन्नी सिंह पर नजर

बिहार पुलिस ने बताया कि पत्रकार राजदेव रंजन की हत्या से पहले पिछले साल सीवान के वर्तमान बीजेपी सांसद ओम प्रकाश यादव के प्रेस सलाहकार श्रीकांत भारती की चवन्नी सिंह नाम के एक शूटर ने हत्या कर दी थी। श्रीकांत की सुपारी शहाबुद्दीन के गुर्गे उपेंद्र सिंह ने दी थी।

शूटर से पुलिस कर रही पूछताछ

पत्रकार हत्याकांड के बाद शूटर चवन्नी सिंह को पिछले साल ही उत्तर प्रदेश से गिरफ्तार कर लिया गया था। तभी से वह यूपी की गोरखपुर जेल में बंद था। तीन दिन पहले उसे वहां से सीवान जेल में ट्रांसफर किया गया। चवन्नी शहाबुद्दीन के ख‍िलाफ कई अहम राज उगल सकता है।

पुलिस का ध्यान भटकाने के लिए हत्या!

आशंका है कि चवन्नी सिंह पूछताछ के दौरान सैयद शहाबुद्दीन का नाम ले सकता है। बताया जा रहा है कि इस पत्रकार की हत्या का फरमान शहाबुद्दीन ने सुनाया था। क्योंकि उसका मकसद श्रीकांत भारती हत्याकांड से पुलिस का ध्यान हटाना है।

इं‍जीनियर भी हिरासत में

बिहार के सीवान में पत्रकार राजदेव रंजन के मर्डर केस में पुलिस ने एक स्थानीय इंजीनियर को हिरासत में लिया है। पुलिस के मुताबिक, राधेश्याम नाम के इस इंजीनियर ने मौका-ए-वारदात वाले दिन की सीसीटीवी फुटेज डिलीट की थी।

पुलिस कर रही पूछताछ

पुलिस राधेश्याम को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। बताया जा रहा है कि राधेश्याम को सरिये की दुकान चलाने वाले एक शख्स ने बुलाया था। सरिये की दुकान घटनास्थल के सामने है।

बीजेपी ने शहाबुद्दीन का हाथ होने का आरोप लगाया

बिहार बीजेपी ने पत्रकार की हत्या मामले में राष्ट्रीय जनता दल के जेल में बंद बाहुबली मोहम्मद शहाबुद्दीन का हाथ होने की ओर इशारा करते हुए की सीबीआई से जांच कराए जाने की मांग की है। बीजेपी के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी ने मृतक पत्रकार राजदेव रंजन के परिजन और घटनास्थल का मुआयना करने के बाद पटना वापस लौटने पर बताया कि शक की सुई जेल में बंद एक सजायाफ्ता बाहुबली की ओर जा रही है।

loading...
शेयर करें