पनामा टैक्स से पहले भी अमिताभ बच्चन ने एक बार की थी चोरी !

0

लखनऊ। पनामा पेपर लीक मामले में अमिताभ बच्चन का नाम सामने आते ही देश में तहलका मच गया। अमिताभ ने इसपर कहा कि रिपोर्ट में जिन कंपनियों का जिक्र किया है मैं उनमें से किसी को नहीं जानता हूं। जिन कंपनियों का रिपोर्ट में जिक्र है मैं उनमें से किसी का कभी भी निदेशक नहीं रहा हूं। फिलहाल मामले की जांच की जा रही है। जल्द सच्चाई सामने आएगी। इस पनामा पेपर लीक के सामने आने के बाद अमिताभ बच्चन के एक और मामला की याद दिला दी है।

पनामा पेपर लीक

पनामा पेपर लीक से पहले बाराबंकी का जमीन मामला

बता दें कि यूपी के बाराबंकी में अमिताभ बच्चन ने अपने आप को किसान बताकर एक गरीब किसान की जमीन खरीदी थी, जिससे काफी विवाद भी हुआ था। इससे बचने के लिए बाद में उन्होंने उस जमीन पर एक स्कूल का निर्माण करवा दिया था। अब कर चोरी की बात करें, तो एक प्रावधान है जिसमें ये बताया जाता है कि यदी कोई अपने आप को किसान बताता है तो उसपर से कर माफ हो जाता है। अमिताभ का बाराबंकी में अपने आपको किसान बताकर जमीन खरीदना कर से बचने का एक आसान तरीका भी था।

पनामा पेपर लीक में 500 से ज्यादा भारतीय

पनामा पेपर लीक मामले में अमिताभ ने बयान में लिखा है कि मेरे नाम का गलत इस्तेमाल किया गया है। मैंने हर तरह का टैक्स दिया है जिनमें विदेश में किया गया निवेश भी शामिल है। मैंने जो भी पैसा विदेश में निवेश किया वो कानून के मुताबिक था। पनामा पेपर लीक होने के बाद बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन और उनकी बहू ऐश्वर्या राय बच्चन पर एक बड़ा आरोप लगा था। कहा जा रहा था कि इन दोनों ने अपनी संपत्ति छिपाने में टैक्स हैवन की मदद ली थी। इन दस्तावेजों में 500 से ज्यादा भारतीयों के नाम हैं। जिसमें सुपरस्टार अमिताभ बच्चन, अभिनेत्री ऐश्वर्या राय बच्चन, डीएलएफ के प्रमोटर के पी सिंह, उद्योगपति गौतम अदाणी के भाई विनोद अदाणी। ये वो नाम हैं जो उस सीक्रेट लिस्ट में शामिल हैं।

loading...
शेयर करें