परीक्षा में मोबाइल मिला तो कहलाओगे नकलची

कानपुर। अब यूनिवर्सिटी की परीक्षा में मोबाइल पर पूरी तरह से प्रतिबन्ध रहेगा। परीक्षार्थी से लेकर कालेज प्रबन्धक मोबाइल केंद्र में लेकर नहीं आ सकेंगे। यूनिवर्सिटी ने इसका सर्कुलर भी जारी कर दिया है। मनाही के बावजूद यदि किसी के पास मोबाइल पाया जायेगा तो उसे नकल की श्रेणी में माना जायेगा। साथ ही उसे जब्त कर लिया जायेगा।

परीक्षा में मोबाइल

मोबाइल पर पूरी तरह प्रतिबन्ध

 

कानपुर छत्रपति शाहू जी महाराज यूनिवर्सिटी से सम्बद्ध कालेज 14 जिलों में हैं। कालेजों की संख्या भी करीब 14 सौ है। जिसमें प्राइवेट व रेग्युलर 14 लाख परीक्षार्थी है। बीएससी, बीकॉम व बीए की रेग्युलर व प्राइवेट परीक्षा 5 मार्च से 30 अप्रैल तक होगी। इस बार आब्जेक्टिव पैटर्न के भी पेपर होंगे। जिससे मोबाइल का इस्तेमाल नकल में किया जा सकता है। इसी के चलते मोबाइल पर पूरी तरह प्रतिबन्ध लगाया गया है।

पहले शिक्षक, कर्मचारियों को थी छूट

 

इससे पहले कॉलेज प्रबन्ध, शिक्षक व कर्मचारियों को मोबाइल लाने की छूट रहती थी, लेकिन इस बार वह भी मोबाइल नहीं ला सकेंगे। वहीँ परीक्षार्थी भी मोबाइल लाते थे और उन्हें शिक्षकों के पास जमा कर परीक्षा देते थे। पर अब केंद्र के अंदर मोबाइल नहीं ले जा सकेंगे।

मोबाइल को नकल की श्रेणी में रखा गया

 

कुलपति प्रो. जेवी वैशंपायन ने बताया कि परीक्षार्थी के पास मोबाइल मिलने पर उसे नकल की श्रेणी में रखा गया है। इस पर स्ववित्त पोषित महाविद्यालय एसोसिएशन ने भी अपनी सहमति जताई है। केंद्र में किसी के पास भी मोबाइल मिलेगा तो उसे जब्त भी कर लिया जायेगा। प्रबन्धक, शिक्षक, कर्मचारियों व परीक्षार्थियों को पहले ही इससे अवगत करा दिया जायेगा।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button