पर्थ वनडे में भारत के सारे रिकॉर्ड धोकर 5 विकेट से जीता ऑस्ट्रेलिया

0

पर्थ वनडे

पर्थ। पर्थ वनडे में भारत के सारे रिकार्ड्स ऑस्‍ट्रेलिया की जीत ने धो डाले। भारत ने आस्‍ट्रेलिया का 310 रनों का विशाल लक्ष्‍य दिया था। वहीं ऑस्‍ट्रेलिया ने ये लक्ष्‍य 4 गेंद शेष रहते ही हासिल कर लिया। ऑस्‍ट्रेलिया की ओर से जॉर्ज बेली और कप्‍तान स्‍टीव स्मिथ ने शतक लगाकर ऑस्‍ट्रेलिया को जीत दिलाई।

पर्थ वनडे में नाकाम रहे भारतीय गेंदबाज

वहीं भारतीय गेंदबाज पर्थ की इस पिच पर नाकाम साबित हुए। शुरूआत में बरिंदर स्रान ने जल्‍द दो विकेट लेकर टीम इंडिया को जीत की उम्‍मीद दिलाई थी। लेकिन बाद में अश्विन और जड़ेजा ने खूब रन लुटाए। हालांकि आखिरी ओवरों में अश्विन को दो सफलताएं मिलीं लेकिन तब तक देर हो चुकी थी। ऑस्‍ट्रेलिया की ओर से सबसे ज्‍यादा 149 रन कप्‍तान स्‍टीव स्मिथ ने बनाए। वहीं जार्ज बेली ने भी 112 रनों की महत्‍वपूर्ण पारी खेली।

पर्थ वनडे में अब तक का सबसे बड़ा स्‍कोर

टीम इंडिया ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 50 ओवरों में 3 विकेट पर 309 रन बनाए। पर्थ वनडे में आज बना स्‍कोर आस्ट्रेलिया में भारत का अब तक का सबसे बड़ा स्कोर है। इससे पहले भारत ने ब्रिस्बेन में 2004 में चार विकेट पर 303 रन बनाए थे।

दूसरे विकेट के लिए शानदार साझेदारी

अपने करियर में चौथी बार 150 रनों से अधिक की पारी खेलने वाले रोहित ने और कोहली ने दूसरे विकेट के लिए शानदार 207 रनों की साझेदारी की। रोहित की 163 गेंदों की पारी में 13 चौके और साथ छक्के शामिल हैं।

आस्‍ट्रेलिया के खिलाफ रोहित का चौथा शतक

पर्थ वनडे में कोहली ने 97 गेंदों का सामना कर नौ चौके और एक छक्का लगाया। विराट अपने करियर के 24वें शतक से चूक गए। यह उनके करियर का 35वां अर्धशतक है। रोहित ने करियर का नौवां शतक लगाया। यह आस्ट्रेलिया में उनका तीसरा और इस टीम के खिलाफ चौथा शतक है। वह आस्ट्रेलिया के खिलाफ 200 रनों की पारी भी खेल चुके हैं।

शिखर धवन नौ रन बना सके जबकि कप्तान महेंद्र सिंह धौनी ने 18 रन बनाए। रवींद्र जडेजा 10 रनों पर नाबाद लौटे। आस्ट्रेलिया की ओर से जेम्स फॉल्कनर ने दो विकेट लिए जबकि जोस हाजलेवुड को एक सफलता मिली।

शतक से चूके कोहली

भारत ने अपने सलामी बल्लेबाज धवन का विकेट 36 के कुल योग पर गंवा दिया था। इसके बाद रोहित और धवन ने 37.5 ओवर की बल्लेबाजी में 5.47 के औसत से रन बटोरे। कोहली अपने शतक से नौ रन दूर रहते हुए फॉल्कनर की गेंद पर एरॉन फिंच के हाथों लपके गए। कोहली ने की विदाई के बाद कप्तान ने खुद को प्रोमोट किया और चौथे क्रम पर बल्लेबाजी के लिए आए।

धोनी ने भी दिखाया हाथ

कप्तान ने भी खुलकर हाथ दिखाए। वह हालांकि लम्बी पारी नहीं खेल सके लेकिन रोहित के साथ उन्होंने तीसरे विकेट के लिए 21 गेंदों पर 43 रन जोड़े। धौनी ने 13 गेंदों पर एक चौका और एक छक्का लगाया। धौनी के जाने के बाद जडेजा ने रोहित के साथ 23 रनों की नाबाद साझेदारी की। यह साझेदारी 10 गेंदों पर हुई। जडेजा ने पांच गेंदों पर एक चौका लगाया।

भारत की ओर से इस मैच में तेज गेंदबाज बरिंदर बालबीर सिंह स्रान डेब्‍यू कर रहे हैं। कप्तान धौनी ने बरिंदर को भारतीय टीम की टोपी प्रदान की। दूसरी ओर, आस्ट्रेलिया की ओर से तेज गेंदबाज जोएल पेरिस और स्कॉट बोलैंड पदार्पण कर रहे हैं।

अभ्यास मैच में किया अच्छा प्रदर्शन

टीम इंडिया ने दो अभ्यास मैचों में अच्छा प्रदर्शन किया है। जहां शिखर धवन (74) और विराट कोहली (74) ने पहले अभ्यास मैच में अच्छी पारी खेली, वहीं दूसरे मैच में मनीष पांडे और रोहित शर्मा ने रंग जमाया। मनीष को अभ्यास मैच में अच्छे प्रदर्शन का फल मिला और वे प्लेइंग इलेवन में शामिल कर लिए गए।

ऑस्ट्रेलिया ने शामिल किए चार तेज गेंदबाज

ऑस्ट्रेलियाई टीम ने अपने प्लेइंग इलेवन का पहले ही ऐलान कर दिया है। खास बात यह कि पर्थ की पिच को देखते हुए उन्होंने चार तेज गेंदबाजों के साथ उतरने का फैसला किया है। ऑस्ट्रेलिया की बल्लेबाजी की बात करें तो स्टीव स्मिथ, डेविड वार्नर और ग्लेन मैक्सवेल प्रमुख होंगे।

टीमें इस प्रकार हैं :

भारत (सम्भावित) : शिखर धवन, रोहित शर्मा, विराट कोहली, अजिंक्य रहाणे, महेंद्र सिंह धोनी (कप्तान), मनीष पांडे, रवींद्र जडेजा, आर. अश्विन, उमेश यादव, बरिंदर स्रान और ।

ऑस्ट्रेलिया (घोषित) : स्टीव स्मिथ (कप्तान), डेविड वार्नर, एरॉन फिंच, जॉर्ज बेली, ग्लेन मैक्सवेल, मिशेल मार्श, मैथ्यू वेड (विकेटकीपर), जेम्स फॉल्कनर, स्कॉट बोलैंड, जोस हेजलवुड, जोएल पेरिस।

loading...
शेयर करें