पश्चिम बंगाल पंचायत चुनाव : माकपा कार्यकर्ता और उसकी पत्नी की आग में जलकर मौत, तृणमूल पर आरोप

कोलकाता| पश्चिम बंगाल में पंचायत चुनाव के दौरान हिंसा की खबरें आई हैं। वहीं चुनाव से पहले दक्षिण 24 परगना जिले के नामखाना में मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के एक कार्यकर्ता और उसकी पत्नी को उनके घर में जलाकर मारने के आरोप सामने आए हैं। माकपा का आरोप है कि तृणमूल कांग्रेस समर्थित अंवाछित तत्वों ने कार्यकर्ता और उसकी पत्नी के घर में आग लगा दी, जहां उनकी जलकर मौत हो गई।

पश्चिम बंगाल

पुलिस ने भी दंपति के आग में मारे जाने की पुष्टि की है, लेकिन कहा कि अभी कारणों का पता नहीं चला है। माकपा के एक सदस्य ने सोमवार को कहा, “नामखाना के बुद्धखली ग्राम पंचायत के देबू दास के घर में कथित तौर पर तृणमूल कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने रविवार की मध्य रात्रि को आग लगा दी।”

माकपा के दक्षिण 24 परगना जिले के सचिव शामिक लाहिरी ने एक विज्ञप्ति जारी कर कहा कि दास व उनकी पत्नी दोनों की आग में जलकर मौत हो गई। माकपा ने यह भी आरोप लगाया कि तृणमूल कांग्रेस के उम्मीदवार अमित मंडल व उनके सहयोगियों ने दास को रविवार को गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी दी थी। माकपा ने राज्य निर्वाचन आयोग (एसईसी) से आरोपी के खिलाफ उचित कार्रवाई करने का आग्रह किया है।

ककद्वीप पुलिस थाने के एक अधिकारी ने कहा, “हमें पता नहीं है कि घर में आग कैसे लगी। यह पता करने की जरूरत है कि क्या यह जानबूझकर लगाई गई या शार्ट सर्किट से आग लगी। शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजा जा रहा है।”

इस घटना को लेकर किसी को हिरासत में नहीं लिया गया है। राज्य (ग्रामीण) निकायों के लिए 38,616 प्रतिनिधियों को चुनाव के लिए मतदान सुबह 7 बजे शुरू हुआ और यह शाम 5 बजे तक जारी रहेगा। मतदान के दौरान विपक्षी राजनीतिक समूहों के बीच छिटपुट हिंसा की खबरें हैं।

Related Articles