यूं जानें, कैसे होता है देश के उपराष्‍ट्रपति पद का चुनाव

0

नई दिल्ली। देश के नए उपराष्‍ट्रपति के चुनाव की तारीख घोषित कर दी गई है। चुनाव आयोग ने तारीखों का ऐलान करते हुए कहा कि चार अगस्‍त को अधिसूचना जारी होगी और अगले दिन पांच अगस्‍त को उपराष्‍ट्रपति पद का चुनाव होगा।

पांच अगस्‍त को उपराष्‍ट्रपति पद का चुनाव

पांच अगस्‍त को उपराष्‍ट्रपति पद का चुनाव होगा दिलचस्‍प

अभी देश के उपराष्‍ट्रपति हामिद अंसारी हैं। वह साल 2007 से देश के उपराष्ट्रपति हैं।  उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी का कार्यकाल 10 अगस्त को खत्म होने वाला है। उपराष्ट्रपति का पद देश में दूसरा सबसे बड़ा संवैधानिक पद है। उपराष्ट्रपति राज्यसभा का पदेन सभापति भी होता है।

कैसे होता है उपराष्ट्रपति का चुनाव?

उपराष्ट्रपति पद के चुनाव के लिए संसद के दोनों सदनों लोकसभा और राज्यसभा के सासंद वोट देते हैं। सासंदों का एक वोट ही जोड़ा जाता है। इस चुनाव में राष्ट्रपति चुनाव की तरह विधानसभा के सदस्य शामिल नहीं होते हैं।

यूं समझें गणित

उपराष्ट्रपति चुनाव के लिए निर्वाचन मंडल (इलेक्टोरल कॉलेज) की कुल सख्या 790 है. जिसमें राज्यसभा के निर्वाचित सदस्य 233 हैं और नामित सदस्य 12 हैं। इसी तरह लोकसभा में निर्वाचित सदस्य 543 और नामित सदस्य 2 हैं।

उपराष्ट्रपति चुनाव में वोटों का गणित-

उपराष्ट्रपति चुनाव के लिए कुल 785 वोट हैं जिसमें से ये चुनाव जीतने के लिए 393 वोटों की जरूरत पड़ती है। इस चुनाव के लिए एनडीए के पास 444 वोट हैं और यूपीए के पास 238 वोट हैं।

5 अगस्त को पता चलेगा कौन होगा अगला उपराष्ट्रपति

चुनाव आयोग ने बताया है कि 4 जुलाई को उपराष्ट्रपति चुनाव के लिए नोटिफिकेशन जारी होगा। वहीं, 18 जुलाई नामांकन की आखिरी तारीख होगी और 21 जुलाई तक नाम वापस लिए जा सकते हैं। 5 अगस्त को मतदान होगा। वोट सुबह 10 बजे से शाम 5 बजे तक डाले जाएंगे। वोटों की गिनती भी उसी दिन 5 अगस्त को ही हो जाएगी।

loading...
शेयर करें