पाकिस्तानी एयरलाइंस के आॅफिस में तोड़फोड़, हिन्दूू महासभा का हाथ

नई दिल्ली। पाकिस्तानी एयरलाइंस के ऑफिस में गुरुवार को तोड़फोड़ का मामला सामने आया है। हिन्दू् महासभा के कार्यकर्ता दिल्ली के बाराखंभा रोड पर स्थित पाकिस्तानी एयरलाइंस के ऑफिस में जबरन घुस गए और वहां तोड़फोड़ की।

पाकिस्तानी एयरलाइंस में तोड़फोड

पाकिस्तानी एयरलाइंस के ऑफिस में तोड़फोड़ के साथ हुई नारेबाजी

हिन्दू महासभा के पांच-छह कार्यकताओं ने पहले पाकिस्तानी एयरलाइंस के ऑफिस में तोड़फोड़ की उसके बाद नारेबाजी भी की। पुलिस ने मौके से एक आरोपी को गिरफ्तार भी किया है। हिन्दू महासभा की यह घटना पठानकोट हमले को लेकर जैश-ए-मोहम्मद के चीफ मसूद अजहर को हिरासत में लिए जाने के एक दिन बाद सामने आई है। पाकिस्‍तानी एयरलाइंस के ऑफिस में तोड़फोड़ की खबर मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने मौके की नजाकत को समझते हुए थोड़ा बल का भी प्रयोग किया।

मसूद अजहर गिरफ्तार
पठानकोट हमले को लेकर जांच कर रहे पाकिस्तान ने जैश-ए-मोहम्मद के चीफ मसूद अजहर को हिरासत में लेकर पूछताछ की। मसूद के अलावा उसके भाई और बहनोई समेत कई अन्य को हिरासत में लिया गया था।

गुप्त स्थान पर हुई पूछताछ
अगर खबरों की माने तो मसूद अजहर और उसके भाई को किसी गुप्त जगह पर ले जाकर पूछताछ की गई। जैश-ए-मोहम्मद के दफ्तरों को भी सील कर दिया गया।

टल गई भारत-PAK वार्ता
मसूद को हिरासत में लिए जाने की खबर सामने आने के बाद 15 जनवरी को तय की गई भारत और पाकिस्तान के विदेश सचिवों की वार्ता फिलहाल टल गई है। भारत में उच्च स्तरीय बातचीत के बाद ये फैसला लिया गया है। सूत्रों के मुताबिक आपसी सहमति से बातचीत को टाला गया है। अब जनवरी के आखिरी हफ्ते या फरवरी में वार्ता हो सकती है।

PAK की कार्रवाई का इंतजार
भारत ने पाकिस्तान के साथ फिलहाल वार्ता टाल दी है। भारत फिलहाल पठानकोट हमले पर पाकिस्तान की कार्रवाई का इंतजार करेगा, उसके बाद वार्ता पर फैसला किया जाएगा।

MEA ने कार्रवाई का किया स्वागत
विदेश मंत्रालय ने पठानकोट हमले पर पाकिस्तान सरकार की तरफ से की जा रही कार्रवाई को सकारात्मक कदम बताया। मंत्रालय ने कहा कि पाकिस्तान की तरफ से तेजी से कार्रवाई की गई है। साथ ही इस बात का भी ऐलान किया कि फिलहाल दोनों देशों की वार्ता टल गई है लेकिन नई तारीख का ऐलान जल्द ही किया जाएगा। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरूप ने कहा कि दोनों देशों की सहमति से अगली तारीख तय की जाएगी।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button