पाकिस्तान : ये तो हद हो गई, बिना सीट और ऑक्सीजन मास्क के यात्रियों ने तय किया तीन घंटों का सफर

0

नई दिल्ली। पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइंस का एक नया कारनामा सामने आया है। आज तक शायद ही कभी किसी देश में ऐसा हुआ हो जो पाकिस्तान के कराची से सऊदी अरब के मदीना जा रही इस फलाइट में हुआ। एयरलाइंस ने यात्रियों की सुरक्षा को दरकिनार करते हुए सात पैसेंजर्स को तीन घंटों तक फ्लाइट के अंदर खड़ा रखा।

पाकिस्तान एयरलाइंस

पाकिस्तान एयरलाइंस में यात्रियों ने खड़े होकर तय किया तीन घंटों का सफर

कराची से मदीना की फ्लाइट PK-743 में ये घटना 20 जनवरी को हुई थी। एयरलाइन द्वारी दी गई जानकारी के अनुसार सारी सीटें फुल थीं। बोइंग 777 विमान में यात्रियों के बैठने की क्षमता 409 यात्रियों की है जिसमें जम्प सीट भी शामिल है। लेकिन पीके-743 में 416 यात्रियों ने कराची से मदीना की यात्रा की। अखबार में छपी रिपोर्ट के मुताबिक, इस फ्लाइट पर यात्रा करने के लिए यात्रियों को हाथ से लिखे गए बोर्डिंग पास दिए गए थे और आपातकालीन स्थिति में उनके पास पर्याप्त ऑक्सीजन और सेफ्टी डिवाइस भी नहीं थे। ऐसे में जरूरत और क्षमता से अधिक यात्रियों की वजह से फ्लाइट पर अवांछित घटनाएं घटने की आशंका बढ़ जाती है।

फ्लाइट कैप्टन को नहीं थी इस बात की खबर

इस पूरे मामले में खास बात यह है कि फ्लाइट कैप्टन अनवर आदिल को भी उड़ान भरने के बाद अतिरिक्त यात्रियों के बारे में बताया गया। उन्होंने डॉन अखबार से बातचीत में कहा है कि उड़ान भरने से पहले उन्हें इसके बारे में नहीं बताया गया। उड़ान के बाद तात्कालिक लैंडिंग संभव नहीं थी। ऐसा करने से ढेर सारा इंधन लगता और यह एयरलाइंस के हित में नहीं था। इसके बाद डॉन अखबार ने सिविल एविएशन अथॉरिटी पर यात्रियों की जिंदगियों को खतरे में डालने का आरोप लगाया हैं।

 

loading...
शेयर करें