हो गया साफ़, पाकिस्तान से ही कराया था मुंबई का 26/11 हमला

0

नई दिल्ली: भले ही पाकिस्तान मुंबई में हुए 26/11 हमले से बराबर पलड़ा झाड़ता आ रहा हो लेकिन अब पाकिस्तान के ही एक पूर्व अधिकारी ने अपने देश की पोल खोलकर रख दी। दरअसल, पड़ोसी देश के पूर्व राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार महमूद अली दुर्रानी ने कहा है कि वर्ष 2008 में मुंबई में हुए हमलों का मुख्य जिम्मेदार पाकिस्तान का ही एक आतंकी संगठन है।

पाकिस्तान

पाकिस्तान के आतंकी संगठन ने ही कराया था 26/11 हमला

दरअसल, दुर्रानी 19वीं एशियाई सुरक्षा कांफ्रेंस के दौरान लोगों को संबोधित कर रहे थे। यह कॉन्फ्रेस इंस्‍टीट्यूट ऑफ डिफेंस एंड स्‍टडीज एंड एनालिसिस की ओर से आयोजित की गई थी। उन्होंने कहा कि 26/11 मुंबई हमला सीमा पार आंतकवाद का क्‍लासिक उदाहरण हैं। दुर्रानी ने कहा कि हाफिज सईद की कोई उपयोगिता नहीं है। उसके खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए।

इंस्‍टीट्यूट ऑफ डिफेंस एंड स्‍टडीज एंड एनालिसिस की ओर से आयोजित इस कांफ्रेंस में भारत के रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर भी मौजूद थे। इस कांफ्रेंस की थीम कि कॉम्‍बेटिंग टेरेरिज्‍म: इवॉल्विंग एन एशियन रेस्‍पॉन्‍स’ है। पर्रिकर ने कहा कि भारत और अफगानिस्‍तान दशकों से छद्म युद्ध के शिकार हो रहे हैं। आतंकवाद अंतरराष्‍ट्रीय सुरक्षा के लिए चुनौती है। इसका सामना करने के लिए सहयोग से वैश्विक जवाब अहम है। उन्‍होंने आतंकवाद को अंतरराष्‍ट्रीय शांति और सुरक्षा के लिए सबसे बड़ा खतरा बताया।

बता दें कि हाफिज सईद की मुंबई हमले का मास्‍टरमाइंड है। भारत उसके खिलाफ कार्रवाई की मांग करता रहा है लेकिन पाकिस्‍तान सबूतों के अभाव की दुहाई देकर ऐसा करने से बचता रहा है। 26 नवंबर 2008 को 10 पाकिस्‍तानी आतंकी समुद्र के रास्‍ते से आए और उन्‍होंने अंधाधुंध तरीके से गोलीबारी की। इसमें 166 लोगों की जान गई और सैंकड़ों अन्‍य घायल हो गए। यह हमला तीन दिन तक चलता रहा। आतंकियों ने छत्रपति शिवाजी टर्मिनल, द ओबेरॉय ट्राइडेंट, ताज महल पैलेस एंड टावर, लियोपाल्‍ड कैफे, कामा अस्‍पताल जैसी बड़ी जगहों को निशाना बनाया।

 

loading...
शेयर करें