फिल्म रिव्यू : हर बेटी के पिता को जरूर देखनी चाहिए अमिताभ बच्चन की ‘PINK’

0

फिल्म का नाम : पिंक

डायरेक्टर: अनिरुद्ध रॉय चौधरी

स्टार कास्ट: अमिताभ बच्चन, तापसी पन्नू, कीर्ति कुल्हाड़ी ,एंड्रिया तेरियांग, अंगद बेदी, पीयूष मिश्रा

रेटिंग: 4 स्टार

पिंक

पिंक का फिल्म रिव्यू

निर्माता-निर्देशक शूजित सरकार की फिल्म पिंक आज बॉक्स ऑफिस पर रिलीज़ हो चुकी है। अमिताभ बच्चन और तापसी पन्नू की ये फिल्म एक कोर्ट रूम ड्रामा है। आइए फिल्म की समीक्षा करते हैं।

कहानी

दिल्ली-फरीदाबाद में बेस्ड ये कहानी सर्वप्रिय विहार में किराए के मकान में रहने वाली मीनल (तापसी पन्नू), फलक (कीर्ति कुल्हाड़ी) और एंड्रीया (एंड्रीया तारियांग) की है। 1 मार्च, रविवार की रात फरीदाबाद के पास स्थित सूरजकुंड के इलाके में रॉक कॉन्सर्ट के बाद ये तीनों लड़कियां वहां मौजूद तीन लड़कों के साथ पास के ही घर में पार्टी करने चली जाती हैं। वहां मौजूद लड़के तीनों लड़कियों के साथ छेड़खानी करते हैं और बदसलूकी की कोशिश करते हैं और फिर लड़कियां जब ऐतराज़ जताती हैं तो उनमें हाथापाई होती है और एक लड़की के हाथों पॉलिटिशियन का भतीजा बुरी तरह से घायल हो जाता है। जिसकी वजह से ये तीनोंं लड़के, मीनल के पीछे पड़ जाते हैं और इसका अंजाम इन तीनोंं लड़कियों को भुगतान पड़ता है। मीनल के ऊपर केस हो जाता है। रिटायर्ड वकील दीपक सहगल (अमिताभ बच्चन) सामने आकर तीनोंं लड़कियों की तरफ से केस लड़ते हैं। अब क्या दीपक की दलील इन लड़कियों को बचा पाएगी या नहीं? इसके लिए आपको सिनेमाघर जाना होगा।

डायरेक्शन

फिल्म का डायरेक्शन कहानी के हिसाब से बहुत परफेक्ट है। फिल्म की शुरुआत में जब स्टार्स के नाम सामने आते हैं, उसके बैकग्राउंड से ही कहानी भी शुरू हो जाती है, जो बहुत अच्छा है । यही कारण है कि आप शुरुआत और आखिर के टाइटल्स को पढ़ते हुए भी कहानी को बिल्कुल भी मिस नहीं कर सकेंगे। इससे लिए डायरेक्टर की तारीफ करनी होगी। कोर्ट रूम ड्रामा और आउटसाइड शूट को भी कैमरे में बखूबी कैप्चर किया गया है। फिल्म की लिखावट के लिए रितेश शाह भी बधाई के पात्र हैं, जिन्होंने कोर्टरूम के भीतर होने वाली जिरह को कलम से पन्नों पर सटीक उतारा है। अभिक मुखोपाध्याय की सिनेमेटोग्राफी भी काफी दिलचस्प है। कहानी की एक और खास बात ये है की इसमें नार्थ ईस्ट, लड़कियों के पहनावे, उनकी हैबिट और ऐसे कई मुद्दों पर बड़े ही सहज तरीके से दिखाया गया है।

एक्टिंग

फिल्म की कास्टिंग बिलकुल परफेक्ट है। वकील के रोल में अमिताभ सटीक बैठे हैं और उन्होंने इस बात को साबित कर दिया कि वो ही बॉलीवुड के महानायक हैं। ताप्सी पन्नू ने जबरदस्त एक्टिंग की है। एंड्रिया तेरियांग, अंगद बेदी, पीयूष मिश्रा, ध्रीतम चटर्जी ने भी बहुत अच्छा काम किया है।

म्यूजिक

फिल्म का म्यूजिक कहानी को जोड़ने में मदद करता है। साथ ही कहानी में जान भी डालता है।

देखें या नहीं

फिल्म न देखने की कोई वजह नहीं है। अच्छी कहानी, जबरदस्त एक्टिंग वाली फिल्म देखने के शौकीन हैं तो जरूर देखें पिंक।

 

loading...
शेयर करें