पीएम मोदी और गनी ने हेरात में डैम का उद्घाटन किया

0

हेरात। अपनी 5 देशों की यात्रा के पहले पड़ाव पर पीएम मोदी अफगानिस्तान के हेरात पहुंचे। यहां उन्होंने भारत की मदद से तैयार हुए सलमा डैम का उद्धाटन किया, इस अवसर पर उनके साथ अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी भी मौजूद थे।

पीएम मोदी अफगानिस्तान

पीएम मोदी अफगानिस्तान में, डैम का उद्घाटन किया

सलमा डैम का उद्धाटान के बाद पीएम ने कहा कि भारत-अफगानिस्तान के लिए ऐतिहासिक मौका है। यह डैम अफगान विकास में बड़ा कदम साबित होगा।  मोदी ने कहा कि हमने केवल एक परियोजना का मात्र उद्घाटन नहीं किया है जिससे आपके घरों में बत्ती जलेगी, बल्कि एक क्षेत्र को पुनर्जीवित किया है।

भारत की मदद से बने सलमा डैम पर 1437 करोड़ रुपए खर्च हुए हैं। 1976 में यह डैम गृहयुद्ध में तबाह हो गया था। अफगानिस्तान के हेरात प्रांत में चिश्ती शरीफ के पास हरिरुद नदी पर भारत ने सलमा बांध बनवाया है।

इस बांध को बनाने का फैसला जनवरी 2006 में लिया गया था। उसी साल काम शुरू हुआ। यह 107 मीटर ऊंचा, 550 मीटर लंबा और 500 मीटर चौड़ा है।

वैसे तो ये डैम एक साल पहले ही बन गया था, लेकिन पिछले साल जुलाई में इसके गेट बंद कर दिए गए। नदी में पानी का बहाव कम होने से करीब 20 किलोमीटर लंबे और 3.7 किलोमीटर चौड़े इस डैम को भरने में एक साल लग गया। इस पर 42 मेगावाट बिजली भी बनाई जाएगी। इससे करीब 80 हजार हेक्टेयर खेतों में सिंचाई भी हो सकेगी।

पिछले साल दिसंबर महीने में पीएम मोदी अफगानिस्तान की संसद का उद्धाटन कर चुके हैं। अफगानिस्तान की सेना की तारीफ करते हुए पीएम ने कहा कि अफगान सुरक्षाबलों ने हेरात में भारतीयों को बचाया मैं उन्हें नमन करता हूं।

अपनी इस यात्रा पर पीएम मोदी अफगानिस्तान के राष्ट्रपति गनी के साथ द्विपक्षीय वार्ता भी करेंगे। माना जा रहा है कि मोदी अफगास्तिान के लिए भारत की तरफ से नए सहयोग की घोषणा भी करेंगे।

शाम को ही कतर पहुंच जाएंगे मोदी

पीएम मोदी अफगानिस्तान की यात्रा के बाद आज शाम को खाड़ी के देश कतर की राजधानी दोहा पहुंचेगे। कल यानि रविवार की शाम को मोदी कतर से स्विट्जरलैंड पहुंचेगे। वहां पर उनकी मुलाकात स्वीटजरलैंड के राष्ट्रपति से होगी। यहां मोदी और राष्ट्रपति योहान शींडर अम्मान के बीच द्विपक्षीय वार्ता होगी। इसमें वहां बैंकों में भारतीयों के जमा काला धन वापस लाने पर भी चर्चा होगी। वैसे परमाणु आपूर्तिकर्ता समूह में शामिल होने का मुद्दा भी मोदी इस दौरान उठाने वाले हैं।

फिर स्विटजरलैंड से अमेरिका जाएंगे

स्विटजरलैंड से मोदी उसी दिन अमेरिका रवाना होंगे। वहां 7 जून की उनकी राष्ट्रपति ओबामा से द्विपक्षीय वार्ता होगी। अगले दिन 8 जून को मोदी अमेरिकी कांग्रेस को संबोधित करेंगे। इस वर्ष अमेरिकी कांग्रेस को संबोधित करने वाले वह पहले विदेशी पीएम होंगे। अपनी यात्रा के दौरान प्रधानमंत्री मोदी ब्लेयर हाऊस में ठहरेंगे जहां पर अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा उन्हें लंच कराएंगे।

30 साल बाद कोई पीए मेक्सिको पहुंचेगा

आठ को दोपहर में मोदी मैक्सिको की राजधानी मैक्सिको सिटी पहुंचेगे। यह 30 वर्षो बाद किसी भारतीय पीएम की मैक्सिको यात्रा होगी। मैक्सिको के साथ भारत का द्विपक्षीय कारोबार लगातार बढ़ रहा है जो अभी आठ अरब डॉलर का हो गया है। उसी दिन शाम को मोदी देश के लिए रवाना हो जाएंगे।

एक नया रिकॉर्ड बनाएगी मोदी की ये यात्रा

आज से शुरू हुई पीएम की पांच देशों की यात्रा के दौरान एक नई तरह का रिकार्ड बनने जा रहा है। ऐसा कम ही हुआ है कि देश का पीएम पांच दिनों में ही पांच देशों की यात्रा करें। पीएम मोदी की यात्रा दक्षिण एशिया से खाड़ी होते यूरोप पहुंचेगी और उसके बाद उत्तर और दक्षिण अमेरिका में यह यात्रा खत्म होगी। विदेश मंत्रालय के अधिकारियों को याद नहीं कि इससे पहले किस भारतीय पीएम ने चार महादेशों की यात्रा पांच दिनों में पूरी की थी।

loading...
शेयर करें