पीएम मोदी का हेलिकॉप्टर से होगा शहर में मूवमेंट

लखनऊ। पीएम मोदी 22 जनवरी को नवाबों की नगरी लखनऊ में आएंगे। जानकारी के मुताबिक पीएम मोदी का मूवमेंट शहर में सड़क मार्ग से नहीं बल्कि हेलिकॉप्टर से होगा। सुरक्षा के मद्देनजर जिला प्रशासन ने सिफारिश की थी कि पीएम मोदी का मूवमेंट हेलिकॉप्टर से कराया जाए। हालांकि, कॉल्विन ताल्लुकेदार्स से अंबेडकर महासभा पीएम सड़क मार्ग से ही जाएंगे।

पीएम मोदी

पीएम मोदी की सुरक्षा के लिए बनेगी रोड

 

मोदी को राजधानी में तीन जगह कार्यक्रमों में शामिल होना है। सोमवार को कमिश्नर ने इस मामले में मीटिंग की। इसके बाद सभी विभागों को निर्देश जारी किए गए। एसपीजी ने रिहर्सल के बाद एयरपोर्ट पर सुरक्षा और सख्त करने के साथ कुछ चीजों में बदलाव के लिए पुलिस-प्रशासन को कहा है। यह भी कहा गया है कि पीएम के आने से पहले और जाने तक एयरपोर्ट में हर आने-जाने वाले व्यक्ति पर सख्त नजर रखी जाए। एयरपोर्ट अथॉरिटी के कुछ गिने चुने कर्मचारी-अधिकारी ही उस एरिया में नजर आएंगे। पीएम का मूवमेंट हेलिकॉप्टर से होने के बावजूद रोड सेफ्टी पर भी नजर रहेगी। पूरे रूट पर सड़क बनाने के लिए कैंट, नगर निगम, को निर्देश जारी कर दिए गए हैं। रोड पर पेड़ों की कटाई-छंटाई करने को कहा गया है।

शुरू हो गई रिहर्सल

 

प्रधानमंत्री के दौरे के मद्देनजर एसपीजी की टीमें सोमवार को लखनऊ और वाराणसी पहुंचीं। टीमों का नेतृत्व आईजी स्तर का अधिकारी कर रहे हैं। आईजी लॉ ऐंड ऑर्डर ए सतीश गणेश ने बताया कि टीमों ने स्थानीय प्रशासन और पुलिस अफसरों के साथ प्रधानमंत्री के कार्यक्रमों का रिहर्सल किया गया। आईजी गणेश ने बताया कि प्रधानमंत्री के दौरे को लेकर केंद्र से 24 कंपनी अर्द्धसैनिक बल की मांग की गई थी। यूपी को 22 कंपनी केंद्रीय बल मिल गया है। डीजीपी मुख्यालय ने लखनऊ को बारह कंपनी केंद्रीय बलों के साथ बारह कंपनी पीएसी मुहैया करवाई है, जबकि वाराणसी को दस-दस कंपनी केंद्रीय बल और पीएसी दी गई है। लखनऊ में एसपीजी ने पहले अमौसी एयरपोर्ट की और उसके बाद कॉल्विन कॉलेज और अम्बेडकर महासभा में प्रधानमंत्री के कार्यक्रम का रिहर्सल किया।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button