पीएम मोदी के बढ़ते कद से घबराया चीन, कहा-हमारे लिए खतरे की घंटी

1

नई दिल्ली। यूपी में पीएम मोदी को मिले बंपर बहुमत से न सिर्फ देश में खलबली मची है बल्कि इसकी गूंज विदेशों में भी सुनाई दे रही है। चीन पीएम मोदी की बढ़ती साख से घबरा गया है। चीनी मीडिया ने साफ तौर पर कहा है कि पीएम मोदी की बढती ताकत चीन और भारत के रिश्तों में भी नजर आएगी। भारत चीन के लिए अपना रुख भी कड़ा कर सकता है।

चीन की सत्ताधारी कम्यूनिस्ट पार्टी ऑफ चीन के अखबार ग्लोबल टाइम्स में कहा गया है कि इस जीत से मोदी की हार्डलाइनर छवि और मजबूत होगी तथा चीन जैसे देशों के साथ समझौता नहीं करने की नीति को मजबूती मिलेगी।

इस अखबार ने लिखा है कि पीएम मोदी ‘मैन ऑफ एक्शन’ हैं। जो कहते हैं उसे तुरंत करना चाहते हैं। मीडिया ने भारत की नीतियों के बदलाव के बारे में लिखा है कि उनके प्रधानमंत्री बनने के बाद से विदेश नीति में तेजी से बदलाव आए हैं। भारत की पुरानी रक्षात्मक नीति बदली है और अब पहले से ज्यादा आक्रामक रुख के साथ भारत वैश्विक मंचों पर खड़ा हुआ है।

वहीँ चीनी मीडिया ने यह भी अनुमान लगाया है कि अगर पीएम मोदी ऐसे ही आगे बढ़ें तो आने वाले 2019 के चुनाव में उन्हें हराना मुश्किल होगा। वहीँ चीन के रणनीतिक मामलों के जानकारों का कहना है कि पीएम मोदी का मजबूत होना चीन के लिए आगे समस्या उत्त्पन्न हो सकती है। गौरतलब है कि हाल के दिनों में सीमा मसलों को लेकर दोनों देशों के बीच तल्खी बढ़ी है।

वहीँ सीमा विवाद पर चीनी मीडिया ने लिखा है कि मोदी की मजबूती से सीमा मसलों पर किसी भी प्रकार की समझौता करने की भारत की ओर से संभावनाएं कम होंगीं। देश के सबसे बड़े त्योहार दीवाली पर मोदी ने चीन बॉर्डर को तवज्जों दी और सैनिकों के बीच त्योहार मनाकर भारत की बॉर्डर नीति में सख्ती का संदेश दिया।

साथ में चीन की मीडिया ने पीएम मोदी के नोटबंदी के बारे में भी लिखा है। उनका कहना है कि पीएम मोदी ने नोटबंदी जैसे बड़े और बोल्ड फैसले लेकर विश्व के मंच पर खुद को एक मजबूत नेता के तौर पर पेश किया है। दुनिया के सामने एक नए भारत को रखा है जिसने अपनी पुरानी  रक्षात्मक नीति को किनारे किया है ।

उन्होंने अपने लेख में लिखा है की अगर पीएम मोदी को दूसरा अवसर मिले तो भारत आर्थिक बुलंदियों को छू सकता है।

loading...
शेयर करें

1 टिप्पणी

  1. Its very obvious that India’s foes like China and Pakistan are afraid of Nationalistic and patriotic leaders like Modi because strong India is against their hedgemonic interests in the region and also being a democracy, a threat to their kind of polity. In asian countries only India has the capacity to take a strong stand against chinese and also has a talented young manpower to counter them economicaly ..