पीसीएस अधिकारी की मौत के मामले में सरकार निष्पक्ष जांच कराए- प्रियंका गांधी

0

लखनऊ। यूपी के बलिया जनपद में तैनात पीसीएस अधिकारी मणि मंजरी की आत्महत्या के मामले में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने जांच की मांग की है। राज्य सरकार को इस मामले की पूरी तरह से जांच करानी चाहिए। महिला अधिकारी के पास से पुलिस को एक सुसाइड नोट मिला था। जिसमें महिला अधिकारी ने प्रशासन पर गंभीर आरोप लगाते हुए खुद को राजनीति में फसाये जाने की बात लिखी थी।

प्रियंका गांधी ने ट्वीट करते हुए कहा कि बलिया में तैनात गाजीपुर निवासी युवा अधिकारी मणि मंजरी के बारे में दुखद समाचार मिला। खबरों के अनुसार उन्होंने प्रशासन की कार्यप्रणाली पर गंभीर सवाल उठाए थे। मणिमंजरी के परिवार को न्याय मिले इसके लिए, सभी तथ्यों का सामने आना और निष्पक्ष जांच बहुत जरूरी है।

आपको बता दें कि बलिया में पीसीएस अधिकारी मणिमंजरी ने फांसी लगाकर जान दे दी। सूचना मिलते ही डीएम श्रीहरि प्रताप शाही और एसपी देवेन्द्र नाथ के साथ ही फोरेंसिक टीम मौके पर पहुंची। जानकारी के मुताबिक पुलिस को मौके से सुसाइड नोट भी मिला है। जिसमें महिला अधिकारी ने सिस्टम पर गंभीर आरोप लगाते हुए खुद को राजनीति में फंसाए जाने की बात लिखी है। अब पुलिस इसी सुसाइड नोट और अधिशासी अधिकारी की कॉल मडिटेल के जरिए आत्महत्या की वजह की जांच में जुट गई है। आपको बता दें, मणिमंजरी राय की तैनाती करीब दो साल पहले मनियर नगर पंचायत के ईओ पद पर हुई थी। वह जिला मुख्यालय पर आवास विकास कॉलोनी में किराये के मकान में रहती थी और यहीं से मनियर आना-जाना था

loading...
शेयर करें