25 का पीसीएस अफसर, 35 की माशूका, दोनों में हुआ प्यार और फिर….

0

इलाहाबाद। सोशल मीडिया हो या निजी जीवन, उसमें अनजान लोगों से दोस्ती कितनी खतरनाक साबित होती है, इसका ताजा उदाहरण बन बैठा है एक पीसीएस अफसर। जिसने फेसबुक पर आई एक लडक़ी की फ्रेंन्ड रिक्वेस्ट को एक्सेपट कर लिया। फ्रेंन्ड लिस्ट में शामिल होने के बाद शुरू हो गई चैटिंग। चैंटिग के दौरान लडक़ी ने लड़के को बताया कि वह इलाहाबाद में रहकर सिविल सर्विसेज की तैयारी करती है उसे इसमें लडक़े की हेल्प चाहिए। इसी दौरान दोनों ने एक दूसरे का मोबाइल नंबर ले लिया। फेसबुक से दोस्ती व्हाट्सअप और बातचीत तक आ गई, उसके बाद मामला शादी तक जा पहुंचा। लडक़ी शादी करने की बात पर अड़ी हुई है। शादी की जिद्द पर अड़ी लडक़ी मामले को लेकर पहले कर्नगलगंज कोतवाली गई उसके बाद एसपी सिटी कार्यालय जा पहुंची। जानकारी के मुताबिक मामले को दबाने के लिए दोनो पक्षों में समझौता कराते हुए शादी करने का निर्णय सुनाया गया।

पीसीएस अफसर

19 मार्च को हुआ सेलेक्शन 20 मार्च को आई फ्रेंन्ड रिक्वेस्ट

गाजीपुर के रहने वाले युवक का चयन, 19 मार्च को निकले पीसीएस परिणाम में असिस्टेंट सेल टैक्स कमिश्नर के पद पर हुआ है। युवक का कहना है कि 20 मार्च को मेरे फेसबुक एकांउट पर फ्रेंड रिक्वेस्ट आई। मैनें एक्सेप्ट कर लिया। बाद में इसने बताया कि मैं वाराणसी की रहने वाली हूं। युवक वाराणसी का पड़ोसी जिला गाजीपूर का रहने वाला है। असिस्टेंट सेल टैक्स कमिश्नर के पद पर चयनित युवका का कहना है कि, कुछ दिन बात करने के बाद जब शादी की बात करने लगी तो मैंने मना कर दिया। युवक का यह भी कहना है कि मना करने पर लड़की ने युवक के पिता जो कि सिंचाई विभाग में एसडीओ के पद पर तैनात है, उन्हें फोन कर शादी करने की बात बताई। वहां भी मना करने पर फर्जी मुकदमे में फंसाने की धमकी दी।

100 पर सूचना देकर पुलिस बुलाई

पीसीएस अफसर के गृह जनपद से इलाहाबाद बारात आई थी, जिसमें शामिल होने वह पहुंचा था। लड़की को इसकी जानकारी मिल गई। शहर के कर्नलगंज मोहल्ले में स्थित गेस्ट हाउस में शादी का कार्यक्रम रखा गया था। लड़की ने वहां पहुंचकर झगड़ना  शुरू कर दिया। मामला हाथा-पाई तक जा पहुंचा। बौखलाई लड़की ने 100 नम्बर पर कॉल करके कर्नगंज पुलिस को सूचना दी। सूचना पर पहुंची पुलिस दोनों को रात में ही थाने ले गई, लेकिन रात में कुछ बात नहीं बन पाई तो सुबह दोनों को फिर थाने में बुलाया गया। कर्नल गंज इस्पेक्टर समीर सिंह के अलावा पीसीएस अफसर का पिता और युवती के बीच बातचीत शुरू हुई, लेकिन उस वक्त भी बात नहीं बन पाई तो लड़की एसएसपी कार्यालय जा पहुंची। जहां दोनो के बीच शादी का निर्णय लिया गया।

अफसर 25 का लडक़ी 35 की

पीसीएस अफसर और लड़की के बीच उम्र का काफी फासला है। अफसर की उम्र 25 साल बताई जा रही है वहीं लडक़ी उम्र 35 है। असिसटेंट सेल टैक्स कमिश्नर का कहना है कि मैं 20 मार्च के पहले इन्हें जानता भी नहीं था। वहीं पिता का कहना है कि लडक़ी अपना सही पता भी नहीं बताई है। धोखे में रखकर दोस्ती करी और मामला यहां तक जा पहुंचा। लड़की खुद को वाराणसी की रहने वाली बता रही है, लेकिन सही-सही पता अभी भी नहीं बता रही है। घरवालों के बारें में पुछने पर केवल तीन लोगों का नाम बता रही है, लेकिन इन लोगों से उसके कैसे सम्बन्ध है इस बारे में कोई जानकारी नहीं दे रही है।

loading...
शेयर करें