पुलिस की करतूत, निर्दोष की पिटाई कर जबरन कबूल कराया चोरी का जुर्म

देहरादून। देहरादून की पुलिस की एक ऐसी करतूत उजागर हुई जिससे आम आदमी की रक्षा करने वाले खाकी वर्दी वालों पर से जनता का भरोसा उठ जाए। दरअसल कोतवाली नेहरु पुलिस पर तथाकथित एक बेगुनाह युवक को जबरन चोरी करने का जुर्म कबुलवाने का मामला प्रकाश में आया है।

police beat

कोतवाली नेहरू कॉलोनी पुलिस ने 19 मार्च को पूर्व मंत्री हरीश चंद्र दुर्गापाल के बेटे के घर हुई लाखों रुपये की चोरी का खुलासा करते हुए दो शातिर चोरों को गिरफ्तार किया है। मगर, इनमें से एक आरोपित ने मीडिया के सामने पुलिस पर आरोप लगाया कि पुलिस ने मारपीट कर उससे चोरी की वारदात कबूल कराई है।

चोरी की खुलासे के लिए पुलिस ने टीम गठित कर घटनास्थल के आसपास के सीसीटीवी फुटेज खंगाले और जेल से रिहा अपराधियों से भी पूछताछ की। एसपी सिटी प्रदीप राय ने बताया कि सीसीटीवी फुटेज में कुछ संदिग्ध नजर आए। इस बीच पुलिस को सूचना मिली कि फुटेज में दिखने युवकों के शकल के कुछ व्यक्ति युवक केशवबस्ती डोईवाला में रहते हैं।

पुलिस उनको उठाकर ले आई और खूब पिटाई की और जबरन उन युवकों से जुर्म काबुलवाया। प्रेस वार्ता के दौरान इन युवकों ने इस बात को जिक्र किया।

इसके बाद एसपी सिटी ने मामले को गंभीरता से लेते हुए खुद मामले को संज्ञान में लिया और फिर दो दिन तक चले तहकीकात में पुलिस ने असली चोर को केशवबस्ती डोईवाला से गिरफ्तार किया। एसपी सिटी ने कहा कि जबरन जुर्म काबुल करवाले के चार्ज में दो कांस्टेबल पर कार्यवाई की जाएगी।

Related Articles