पेटीएम ने लांच किया पेमेंट बैंक, पैसा के बदले मिलेगा पैसा

0

नई दिल्ली। फिनटेक कंपनी पेटीएम ने मंगलवार को अपने पेमेंट बैंक की शुरुआत की और पहली बार किसी बैंक द्वारा पैसे जमा करने पर कैशबैक देने के ऑफर की शुरुआत की। बैंक का कहना है कि उसका इरादा साल 2020 तक 50 करोड़ ग्राहक जुटाने का है। कंपनी ने यहां एक बयान में कहा कि ग्राहकों को सभी ऑनलाइन ट्रांजैक्सन पर शून्य शुल्क देना होगा, साथ खाता चालू रखने के लिए किसी न्यूनतम बैलेंस रखने की भी जरूरत नहीं है।

पेटीएम

पेटीएम ने पेमेंट बैंक की शुरुआत की

इसमें कहा गया, “एकाउंट का डिजाइन देश के वित्तीय समावेशन को ध्यान में रखकर बनाया गया है। इसका लक्ष्य आधे अरब भारतीयों को मुख्यधारा की अर्थव्यवस्था में शामिल करना है।” इसमें कहा गया कि कंपनी का लक्ष्य लोगों के अपनी नकदी को डिजिटल पारिस्थितिक तंत्र में ले जाने के लिए प्रेरित करना है।

ये पेमेंट बैंक खाते फिलहाल इंवाइट के आधार पर ही उपलब्ध हैं। पहले चरण में कंपनी ने बीटा बैंकिंग एप जारी किया है जो उसके कर्मचारियों और सहयोगियों को मुहैया कराया गया है। पेटीएम के उपभोक्ता डब्ल्यू़डब्ल्यूडब्ल्यू डॉट पेटीएमपेमेंटबैंक डॉट कॉम या पेटीएम के आईओएस एप पर जाकर इन्वाइट हासिल कर सकते हैं।  कंपनी देशभर में केवाईसी केंद्र की स्थापना कर रही है, ताकि ग्राहकों के पेमेंट बैंक में खाता खोलने के योग्य बनाया जा सके।

पैसा जमा करने पर मिलेगा कैशबेक

पेटीएम पेमेंट बैंक में खाता खोलने पर 25,000 रुपये जमा करने पर 250 रुपये का कैशबेक मिलेगा। इन खातों के लिए न्यूनतम बैंलेस रखने की कोई जरुरत नहीं होगी तथा आईएमपीएस, एनईएफटी, आरटीजीएस, इमरजेंसी फंड ट्रांसफर जैसे सभी ऑनलाइन ट्रांसफर पूरी तरह से मुफ्त होंगे। वहीं, बचत खातों पर कंपनी 4 फीसदी सालाना की दर से ब्याज देगी। साथ ही पेटीएम अपने लाखों व्यापारियों को चालू खाता खोलने की सुविधा भी दे रही है।

पेटीएम पेमेंट बैंक के अध्यक्ष विजय शेखर शर्मा ने बताया, “आरबीआई ने हमें यह अवसर दिया है कि हम दुनिया में नई तरह के बैंकिंग मॉडल का सृजन कर सकें। हमें गर्व है कि हमारे ग्राहक जो पैसा हमारे पास जमा करेंगे, हम उन्हें सुरक्षित रूप से सरकारी बांड में निवेश करेंगे और वह रकम राष्ट्र निर्माण में काम आएगी। हमारे यहां जमा किसी भी रकम को जोखिम वाली संपत्तियों में निवेश नहीं किया जाएगा।”पेटीएम पेमेंट बैंक की मुख्य कार्यकारी अधिकारी रेनु सत्ती ने बताया, “हमारा लक्ष्य भारत का सबसे भरोसेमंद और तकनीक का लाभ उठाते हुए ग्राहक-हितैषी बैंक बनने का है।” इसमें कहा गया, “वर्तमान में जितने भी पेटीएम वॉलेट खाते हैं, सभी को पेटीएम पेमेंट बैंक के खातों में बदल दिया जाएगा।”

loading...
शेयर करें