चिप लगाकर चोरी करने वाले 5 पेट्रोल पंपों की डीलरशिप निरस्त

0

लखनऊ। यूपी एसटीएफ की टीम ने राजधानी लखनऊ के करीब दर्जन भर पेट्रोल पंपों पर डिस्पेंसर यूनिट में चिप लगाकर रिमोट के जरिए तेल चोरी का मामला का खुलासा किया था। इसी मामले में बड़ी कार्रवाई करते हुए तेल कंपनियों पांच पेट्रोल पंपों की डीलरशिप निरस्त कर दिया।

पेट्रोल पंपों

पेट्रोल पंपों के डीलरशिप निरस्त, यहां चिप लगाकर हो रही थी तेल की चोरी

तेल चोरी पर कार्रवाई करते हुए भारत पेट्रोलियम कारपोरेशन लिमिटेड ने बुधवार को पंपों को तो आईओसी ने एक पंप की डीलरशिप निरस्त कर दी। इतना ही नहीं इन पेट्रोल पंप पर अपना कब्ज़ा भी कर लिया। कब्जे में लिए गए पेट्रोल पम्पस में दो राजधानी लखनऊ के तो बाराबंकी, बहराइच और कन्नौज का एक-एक पंप शामिल है।

वहीं राजधानी के 6 पंपों का डीलरशिप एग्रीमेंट निरस्त किया गया है। मामला कोर्ट में होने की वजह से कंपनियों ने इन्हें कब्जे में नहीं लिया है। बीपीसीएल कंपनी के चीफ मैनेजर पब्लिक रिलेशन सुन्दरराजन ने बताया कि एसटीएफ ने लखनऊ के सात पंपों पर एक साथ छापेमारी कर डिस्पेंसर मशीन में रिमोट डिवाइस लगाकर घटतौली का खेल पकड़ा था। जिसके बाद यह कार्रवाई की गई है।

वहीँ जिनकी डीलरशिप निरस्त हुयी है उनमे ब्रिज ऑटोमोबाइल गोमतीनगर, लालता प्रसाद मेडिकल कॉलेज, लालता प्रसाद सीतापुर रोड, मान फिलिंग स्टेशन डालीगंज, शिवनारायण कैंट, लखनऊ फिलिंग स्टेशन ठाकुरगंज। इनका केस निपटारा होने के बाद ही ओनरशिप ली जाएगी।

गौरतलब है योगी के सीएम बनते ही भ्रष्टाचार पर कार्रवाई करते हुए एसटीएफ की टीम ने राजधानी के कई पेट्रोल पंपों कर छापा मारकर तेल चोरी का का मामला पकड़ा था। साथ कई लोगों को गिरफ्तार किया था। पेट्रोल पंप सीज भी हुए थे। पहली बार पेट्रोल चोरी का मामला सामने आया था।

loading...
शेयर करें