पंजाब के सीएम ने जम्मू-कश्मीर से हुए समझौते का किया स्वागत

0

चंडीगढ़। शाहपुर कांडी बांध परियोजना से जुड़े विभिन्न लंबित मुद्दों के समाधान के लिए उनके राज्य एवं जम्मू कश्मीर के बीच हुए समझौते की सराहना करते हुए पंजाब के मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल ने कहा, कि पंजाब हमेशा नदीवाले राज्यों के बीच जल संसाधन के समान वितरण के पक्ष में खड़ा रहा है। उसे जम्मू कश्मीर सरकार के शीघ्र समर्थन औपचारिक अनुमोदन की आशा है।

प्रकाश सिंह बादल

प्रकाश सिंह बादल और शेख अब्दुल्ला के बीच समझौते में बनी शाहपुर कांडी बांध परियोजना

यह बांध रावी नदी पर रंजीत सागर, सागर बांध के निचले हिस्से में बनाने का प्रस्ताव है। राज्य सरकार के प्रवक्ता ने बताया कि सचिव स्तर के इस समझौते में भारत सरकार के जल संसाधन मंत्रालय ने मदद की। केंद्रीय जल संसाधन मंत्रालय भी इस समझौते पर सह हस्ताक्षरकर्ता है।

केंद्रीय जल संसाधन मंत्रालय के सचिव अमरजीत सिंह की उपस्थिति में पंजाब के दल की अगुवाई अतिरिक्त मुख्य सचिव (राजस्व एवं सिंचाई) केबीएस सिंधु ने की जबकि जम्मू कश्मीर के सिंचाई सचिव सौरभ भगत ने अपने राज्य का प्रतिनिधित्व किया।

प्रवक्ता के अनुसार शाहपुर कांडी बांध परियोजना की रूपरेखा 1979 में पंजाब के तत्कालीन मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल और जम्मू कश्मीर के मुख्यमंत्री शेख अब्दुल्ला के बीच हुए समझौते में बनी थी। रंजीत सागर बांध का निर्माण पूरा होने के बाद शाहपुर कांडी बांध परियोजना को 2009 में राष्ट्रीय परियोजना घोषित किया गया और अप्रैल, 2013 में काम शुरू हुआ। लेकिन कई अनसुलझे मुद्दों के चलते काम रुक गया।

loading...
शेयर करें