तेल का खेल: यूपी एसटीएफ और तेल कंपनियां प्रत्येक पेट्रोल पंप की करेंगी जांच

0

लखनऊ। प्रदेश की राजधानी में तेल का खेल बेनकाब हो गया है। ऐसी खबरें मिली है कि यूपी एसटीएफ के साथ मिलकर तेल कंपनियां भी पेट्रोल पंपों पर नकेल कसने जा रही हैं। भारत सरकार के संयुक्त सचिव के साथ बैठक के बाद इस कारोबार पर नकेल कसने की कार्य योजना पर निर्णय लिया जायेगा। ऐसा पता चला है कि प्रदेश के हर पेट्रोल पंप की जांच कराई जाएगी।

प्रदेश के हर पेट्रोल पंप की जांच

प्रदेश के हर पेट्रोल पंप की जांच होने से सामने आएगी सच्‍चाई

इंडियन आयल ने इस मामले में लखनऊ के मार्केटिंग अफसर को जहां हटा दिया है, वहीं दूसरी तरफ प्रदेश के 6300 पेट्रोल पंपो में सर्वाधिक 3550 इंडियन ऑयल के पेट्रोल पंपो पर घटतौली की जांच करने वाली टीम भी गठित की जा रही है। प्रदेश के आधे से अधिक पेट्रोल पंपो की डीलरशिप वाली इंडियन ऑयल कंपनी कैसे लोगो के साथ हो रही ठगी के कारोबार पर नकेल कसेगी।

जल्‍द बनाई जाएगी कमेटी

इस पर कंपनी के कार्पोरेट अफेयर्स के सीनियर मैनेजर एमके अवस्थी ने बताया कि इंडियान ऑयल के ज्वाइंट सेक्रेटरी आ रहे हैं। उसमें ये तय किया जाएगा कि कमेटी बनाई जाए, जिसमें यूपी एसटीएफ के साथ ही सिविल ​सप्लाई के अफसर हों, बांट एवं माप के अफसर हों, और ऑयल मार्केटिंग कंपनी के भी अफसर हों। ये संयुक्त जांच दल प्रदेश के सभी पेट्रोल पंप की जांच करेगा।

सीनियर मैनेजर ने पेश की दलील

पेट्रोल पंपों के ये आरोप कि उन्हें कंपनियों से ही कम तेल मिलता है के सवाल पर एमके अवस्थी ने कहा कि अगर आप बैंक में 10 हजार का चेक देते हैं और बैंक आपको 9500 रुपए देती है तो क्या आप इसे स्वीकार करेंगे। इस संबंध में किसी डीलर ने कभी कोई शिकायत की है क्या। आठ साल से मैं इंचार्ज हूं मुझे आज तक तेल कम मिलने की किसी डीलर ने शिकायत नहीं की।

loading...
शेयर करें