Pk को ढूंढ कर लाइए और 5 लाख रुपए का इनाम पाईये

0

लखनऊ। हाल ही में हुए उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी के साथ मिलकर कांग्रेस अपना राजनीति अस्तित्व तलाश में थी। इस चुनाव में उसने केवल 105 सीटों पर ही चुनाव लड़ा था जिसमें से उसे मात्र सात सीटें ही हासिल हो सकी। कांग्रेस की इस बुरी हालत का मुख्य जिम्मेदार पार्टी की रणनीति तैयार करने वाले प्रशांत किशोर को माना जा रहा है। लेकिन अब जब उनकी सभी रणनीति फेल हो गई और पार्टी को सूबे में भारी खामियाजा उठाना पड़ा, प्रशांत किशोर का कुछ भी अता पता नहीं चल रहा है। बताया जा रहा है कि उन्ही के कहने पर कांग्रेस ने सपा से गठबंधन किया था।

प्रशांत किशोर

प्रशांत किशोर के गायब हो जाने के बाद अब उनकी तलाश हो गई है शुरू

प्रशांत किशोर के गायब हो जाने के बाद अब उनकी तलाश शुरू हो गई है। उनकी तलाश में स्थानीय कार्यकर्ताओं ने एक मुहीम छेड़ दी है। दरअसल, यूपी चुनाव के लिए कांग्रेस की तरफ से रणनीति तैयार करने वाले प्रशांक किशोर को ढूंढने के लिए बलिया के एक स्थानीय नेता ने लखनऊ ऑफिस के बाहर एक पोस्टर लगवाया हैं, जिन पर लिखा है कि प्रशांत किशोर को ढूंढ कर जो भी कार्यकर्ता सम्मेलन में लाएगा, उसे पांच लाख रुपये दिये जाएगें।

साथ ही, इस पूरे मामले में प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सचिव राजेश सिंह का कहना है कि यह पोस्टर उन्होंने सभी कांग्रेसियों की ओर से लगवाए हैं। उन्होंने मानना है कि उन्हें व पूरी पार्टी को पिछले एक साल से बेवकूफ बनाया जा रहा था, हमनें प्रशांत किशोर के हर आदेश का बिना कोई सवाल पूछे पालन किया। लेकिन अब हमें इस हार का जवाब चाहिए।

वहीं, जैसे ही कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर को इस पूरे मामले की जानकारी हुई तो उन्होंने तुरंत इस पोस्टर को हटवाने के आदेश दे दिये। उन्होंने कहा कि अभी किसी को भी हार के लिए जिम्मेदार ठहराना काफी जल्दी भरा कदम होगा। राजबब्बर लखनऊ में हार की समीक्षा बैठक करने के लिए आएं हुए हैं।

loading...
शेयर करें