प्रशांत भूषण ने सीएम योगी को दी खुली चुनौती, कहा- अगर हिम्मत है तो रोमियो की जगह ‘एंटीकृष्ण स्क्वॉड’ चलाएं

0

नई दिल्ली। देश के जाने माने वकील प्रशांत भूषण ने उत्तर प्रदेश में सीएम योगी द्वारा शुरू किए गए ऐंटी-रोमियो स्क्वॉड की आलोचना करते हुए उन्हें चुनौती दी है। भूषण का कहना है कि सीएम योगी को अपने इस अभियान का नाम एंडी रोमियो नहीं ऐंटीकृष्ण स्क्वॉड रखना चाहिए। क्योंकि रोमियो ने अपने जीवन में केवल एक ही लड़की से प्यार किया, जबकि कृष्ण तो कई लड़कियों के साथ छेड़खानी करने के लिए प्रसिद्ध हैं।

https://twitter.com/pbhushan1/status/848362262913875968

प्रशांत भूषण के इस विवादित ट्वीट पर संबित पात्रा ने दिया करारा जवाब

प्रशांत भूषण ने सीएम योगी को चुनौती देते हुए कहा है कि क्या मुख्यमंत्री आदित्यनाथ में इतनी हिम्मत है कि वह अपने मुस्तैद दस्ते का नाम ऐंटीकृष्ण स्क्वॉड रख सकें?’

प्रशांत भूषण के इस ट्वीट के बाद बीजेपी के प्रवक्ता संबित पात्रा ने उनके सवाल का जवाब भी एक ट्वीट के जरिए ही दे डाला। संबित पात्रा ने प्रशांत भूषण के अंग्रेजी ट्वीट का जवाब हिंदी में देते हुए लिखा कि भगवान कृष्ण को समझने के लिए प्रशांत भूषण को कई जन्म लेने होंगे। उन्होंने प्रशांत भूषण के ट्वीट की निंदा करते हुए आगे लिखा कि वह कितनी आसानी से कृष्ण जी को राजनीति में घसीट लाए हैं। प्रशांत भूषण का एसा करना बहुत ही दुख की बात है।

एंडी रोमियो स्क्वॉड को सही ठहराने वाले शख्स गौरी शंकर ने ट्वीट किया है- ‘रोमियो और कृष्ण ने कभी किसी नारी की इच्छा के विरुद्ध रासलीला नहीं की जबकि आज के दौर में बाइक सवार लड़के लड़कियों की चुन्नी खींच ले जाते हैं। ‘

सीएम बनते ही योगी ने रोमियो स्क्वाड का किया गठन

योगी आदित्यनाथ के सीएम बनते ही एंटी रोमियो स्क्वाड का गठन करते हुए लड़कियों को छेड़ने वाले मनचलों पर सख्त कार्रवाई शुरू कर दी है। एंटी रोमियो स्क्वाड के गठन के बाद ही इसपर सवाल उठते रहे हैं कि इस स्क्वाड का नाम एंटी रोमियो क्यों रखा गया, जबकि रोमियो तो किसी भी तरह का मनचला तो था नहीं। इसी कड़ी में एंटी रोमियो स्क्वाड पर सवाल उठाते हुए प्रशांत भूषण अब भगवान कृष्ण को भी खींच लाए हैं।

loading...
शेयर करें