प्रियंका ने किया खुलासा, हिंदी फिल्मों के बारे में क्या सोचते हैं पश्चिम देशों के लोग

0

न्यूयार्क। हॉलीवुड में एंट्री ले चुकी ऐक्ट्रेस प्रियंका चोपड़ा का कहना है कि पश्चिम वाले भारतीय सिनेमा के लिए रूढि़वादी सोच रखते हैं। अब वक़्त आगया है कि अब बॉलीवुड के कलाकारों को लम्बे समय से चली आरही धारणाओं को तोडना पड़ेगा।

प्रियंका चोपड़ा

प्रियंका चोपड़ा ने कहा कि लोग भारतीय कलाकारों से उम्मीद करते है

प्रियंका ने कहा कि भारत, हिंदी फिल्मों के बारे में बड़ी रूढि़वादी सोच है। अब और जागरूकता फैलाने की जरूरत है क्योंकि हिंदी फिल्मों का एक बड़ा उद्योग है लेकिन रूढिय़ां अब भी मौजूद हैं। उन्होंने कहा कि लोग भारतीय कलाकारों से उम्मीद करते है कि उन्हें अंग्रेजी का ज्ञान ना हो, यहां तक कि वे अभिनय ना जानते हो और वे सिर्फ उनसे नाचने की उम्मीद करते हैं।

उन्होंने कहा कि इन रूढिय़ों से आपको हमेशा लडऩा होता है और मुझे लगता है कि लोगों को शिक्षित करके और यह बताकर कि भारतीय कलाकार यह कर सकते हैं, इन रूढिय़ों को तोड़ा जा सकता है।

प्रियंका ने कहा कि उन्हें टीवी धारावाहिक क्वांटिको देखने के बाद लोगों ने मेरी हिंदी फिल्में भी देखीं। उन्होंने कहा कि मुझे लगता है कि उन्हें यह समझ आया कि हिंदी फिल्में केवल गाने और नाचने वाली नहीं हैं।

फिलहाल प्रियंका अपनी हॉलीवुड डेब्यू फिल्म बेवॉच का बेसब्री से इंतजार कर रहीं जो शुक्रवार को भारत में रिलीज होने वाली है। इस फिल्म में प्रियंका ने विलेन की भूमिका निभाई है।

loading...
शेयर करें