फतेहपुर बवाल में पुलिस ने 27 को किया गिरफ्तार

फतेहपुर। यूपी के फतेहपुर जिले में खिचड़ी मेले के दौरान दो वर्गों के बीच जबरदस्‍त बवाल के बाद अब तक पुलिस ने 27 लोगों को गिरफ्तार किया है।  साथ ही 250 अज्ञात के खिलाफ मुकदमा लिखा गया है। फतेहपुर में बवाल के बाद सूबे के आला अधिकारी हालात पर नजर रख रहे हैं। फतेहपुर में गुरुवार को हुई हिंसा के बाद मंडल के सभी वरिष्ठ पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी जहानाबाद में डटे हुए है। धारा 144 लागू किए जाने के बाद से अब तक इस मामले में 27 लोगों को गिरफ्तार किए जाने की पुष्टि की जा चुकी है। यूपी डीजीपी खुद हालात पर नजर रखे हुए हैं।

फतेहपुर में बवाल

फतेहपुर में बवाल का ये था पूरा मामला

 

खिचड़ी मेले की तैयारी के लिए कुछ हिन्दू संगठन शोभायात्रा निकाल रहे थे, रास्ते में एक बिजली का तार आने पर कुछ युवकों ने उसे तोड़ दिया। इस पर दूसरे वर्ग के लोग भड़क गए और दोनों में मारपीट शुरू हो गयी। देखते-देखते बवाल बढ़ गया, दोनों तरफ से पथराव में राहगीर भी फंस गए। एक महिला को कई पत्थर लगे जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गयी। पुलिस ने किसी तरह से हालात पर काबू पाया।

दुबारा हो गया बवाल

 

इसके बाद पुलिस जैसे ही विहिप के अंतरराष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. प्रवीण भाई तोगडिय़ा के आयोजन स्‍थल रामतलाई मंदिर की तरफ बढ़ी, दोबारा बवाल हो गया। दारागंज व काजीटोला मोहल्‍ले में कुछ उपद्रवी फायरिंग करने लगे। इसमें एक युवक के गोली लगने के बाद हालात बेकाबू हो गए। इस दौरान दो दर्जन से अधिक दुकानों को आग के हवाले कर दिया गया। विश्व हिंदू परिषद के अंतरराष्ट्रीय अध्यक्ष प्रवीण भाई तोगडिय़ा को बवाल के बाद भारी पुलिस बल के साथ फतेहपुर से घाटमपुर के रास्ते कानपुर भेज दिया गया।

बंद रखी गई दुकानें

 

फतेहपुर के जहानाबाद में आज एडीजी ब्रज भूषण के साथ डीआईजी तथा एसपी हमीरपुर व फतेहपुर ने दौरा किया। इस दौरान पुलिस बल को मुस्तैद कर दिया गया है। कौशांबी से भी फोर्स बुलाकर फतेहपुर प्रसाशन ने जहानाबाद कस्बे को चार सेक्टर में बांटा है। यहां पर सभी दुकानें बंद रखी गई हैं। एडीजी ने कस्बे का भ्रमण कर दुकानदारों से अपनी-अपनी दुकानें खोलने की अपील की है। पुलिस माइक से दुकानें खोलने का प्रयास कर रही है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button