‘फीफा विश्व कप में टीमों का विस्तार पैसों के लिए नहीं’

ज्यूरिख। फुटबाल की विश्व नियामक संस्था-फीफा के अध्यक्ष गियानी इंफेंटानो ने विश्व कप में टीमों की संख्या में विस्तार के फैसले का बचाव किया है। गियानी का कहना है कि यह फैसला खेल की योग्यता के आधार पर लिया गया है न कि पैसों के लिए।

फीफा के अध्यक्ष

फीफा के अध्यक्ष ने इस फैसले से होगा फायदा

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, ज्यूरिख में मंगलवार को हुई बैठक में फीफा काउंसिल ने सर्वसम्मति से 2026 विश्व कप में 48 टीमों की हिस्सेदारी पर सहमति जताई। एक समूह ‘न्यू फीफा’ ने टीमों में किए गए इस विस्तार को ‘ताकत और पैसों की चाह के लिए किया गया फैसला’ करार दिया है।

इस फैसले का बचाव करते हुए गियानी ने कहा, ‘यह फैसला बिल्कुल अलग है। यह फुटबाल का फैसला है।’ गियानी ने कहा कि वित्तीय रूप से हर प्रारूप का एक फायदा होता है। हमने खेल की योग्यता के आधार पर सहज रूप से यह फैसला किया है।

इस फैसले के तहत 2026 में फीफा विश्व कप में तीन-तीन टीमों के 16 ग्रुप होंगे। हर ग्रुप से दो टीमें अंतिम-32 दौर के लिए क्वालीफाई करेंगी। अब तक फीफा विश्व कप के तहत कुल 64 मैच हुआ करते थे, लेकिन नए बदलाव के बाद कुल 80 मैच हुआ करेंगे। नए बदलाव के बाद यूरोप से विश्व कप खेलने वाली टीमों की संख्या 13 से 16 हो जाएगी। एशिया और अफ्रीका से नौ-नौ टीमें विश्व कप में हिस्सा लेंगी।

ब्राजील में 2014 में हुए विश्व कप में अफ्रीका से पांच और एशिया से चार टीमों ने हिस्सा लिया था। फीफा मई में निर्णय लेगा कि महाद्वीपों से विश्व कप में कितना प्रतिनिधित्व होगा।

Edited by- Jitendra Nishad

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *