मूवी रिव्यू : जबरदस्त एक्टिंग लेकिन कमजोर कहानी, नहीं चला ‘फीवर’ का जादू

0

फिल्म का नाम: फीवर
डायरेक्टर: राजेश झावेरी
स्टार कास्ट: राजीव खंडेलवाल, गौहर खान, विक्टर बनर्जी, कटरीना मुनीरो
रेटिंग: 2

फीवर

फीवर फिल्म रिव्यू

‘कुछ तो है’ और ‘ढूंढते रह जाओगे’ जैसी फिल्मों की कहानी लिख चुके राजेश झावेरी  ने अब फीवर फिल्म के जरिए डायरेक्शन में भी हाथ आजमाया है। फीवर एक सस्पेंस थ्रिलर फिल्म है।  आईये फिल्म की समीक्षा करते हैं और देखते हैं कि इस फिल्म से राजेश को सफलता मिलती है या नहीं।

कहानी

यह कहानी एक कॉन्ट्रैक्ट किलर आर्मिन सेलम (राजीव खंडेलवाल) की है, जिसकी एक दुर्घटना के चलते याददाश्त चली जाती है और उसे सिर्फ अपना नाम और उसे बचा रही लड़की काव्या चौधरी (गौहर खान) के बारे में ही पता रहता है। काव्या, आर्मिन की याददाशत वापस लाने में उसकी पूरी मदद करती है। लेकिन ये करना इतना आसान नहीं होता और इस बीच उसकी जिंदगी में कई ट्विस्ट आते है। अलग-अलग तरह के लोगों का आना होता है और सस्पेंस बरकरार रहता है। इसी बीच काव्या को अर्मिन से प्यार भी होने लगता है। आखिर क्या है आर्मिन सेलम की जिंदगी का सच? ये जानने के लिए आपको थिएटर तक जाना होगा।

डायरेक्शन

फिल्म का डायरेक्शन, सिनेमेटोग्राफी और स्क्रीनप्ले जबरदस्त है। फिल्म का कुछ हिस्सा स्विट्ज़रलैंड में शूट हुआ है जो शानदार है। फिल्म की कुछ लोकेशंस आपका दिल खुश कर देंगी। हालांकि फिल्म की स्पीड काफी स्लो है। फर्स्ट हाफ तो ठीक है लेकिन सेकेंड हाफ काफी निराश करने वाला है। क्लाइमैक्स को और भी रोमांचक बनाया जा सकता था।

एक्टिंग

गौहर खान, गेमा एटीन्क्सन, कटरीना मुनीरो और अंकिता मखवाना ने कमाल का काम किया है , वहीं राजीव खंडेलवाल ने भी मेमोरी लांस की अच्छी एक्टिंग की है। साथ ही उनकी मौजूदगी से कई सारे सीन दिलचस्प भी दिखाई पड़ते हैं।

म्यूजिक

फिल्म का म्यूजिक अच्छा है। फिल्म के गाने आपको बोर नहीं होने देंगे और बांधे रखेंगे।

देखें या नहीं

अगर सस्पेंस थ्रिलर वाली फिल्में पसंद हैं और राजीव खंडेलवाल या गौहर खान के फैन हैं तो एक बार ये फिल्म जरूर देख सकते हैं।

loading...
शेयर करें