दोस्त है या अनजान, अब बताएगी फेसबुक की ‘ग्रुप कॉलिंग’

0

न्यूयार्क। सोशल मीडिया की दिग्गज कंपनी फेसबुक ने गुरुवार को अपने मैसेंजर ऐप पर ग्रुप कॉलिंग सेवा की शुरुआत की है।टेकक्रंचडॉटकॉम की रिपोर्ट के मुताबिक इस ऐप के उपयोगकर्ता अब 50 लोगों के साथ ग्रुप कॉलिंग कर सकते हैं। मैसेंजर का यह फीचर अगले 24 घंटों में दुनिया भर में जारी कर दिया जाएगा। यह फोन वीओआईपी (वायर ओवर इंटरनेट प्रोटोकॉल) के माध्यम से किए जाएंगे। मैसेंजर के प्रवक्ता ने इस बारे में बताया, “कई बार लोग टाइप करने की बजाए एक दूसरे से बात करना चाहते हैं। ”

फेसबुक

ग्रुप कॉल शुरू करने के लिए फोन आइकॉन पर क्लिक करना होगा। उसके बाद उस समूह को जोड़ना होगा जिसके सदस्यों से आप बात करना चाहते हैं। चुने गए सभी मैसेंजर प्रयोगकर्ता एक साथ मैसेंजर कॉल रिसीव करेंगे। अगर ग्रुप का कोई सदस्य बाद में भी कॉल में जुड़ना चाहे तो वह फोन आइकॉन पर क्लिक कर जुड़ सकता है।

फेसबुक पर तेजी से फैल रहा वायरस

सोशल नेटवर्किंग फेसबुक पर इन दिनों एक आफत आई हुई है। सोशल नेटवर्किंग साइट फेसबुक पर एक वायरस तेजी से फैल रहा है। इस वायरस का शिकार बहुत लोग हो रहे हैं। अगर फेसबुक पर आपको अपने दोस्त के फोटो के साथ उसका पहला वीडियो देखने का ऑफर मिले तो भूलकर भी उस पर क्लिक मत कर बैठिएगा। जैसे ही आप इसे क्लिक करते हैं तो आपसे जुड़े कई लोगों के पास यह वायरस खुद-ब-खुद पहुंच जाता है।

फेसबुक पर दूसरे दोस्तों को भी हो रहा टैग

ये एक वायरस है और आप जैसे ही इसके जाल में फंसते हैं, ये आपकी वॉल पर कब्जा कर लेता है और आपके नाम से ऐसा ही मैसेज आपके दूसरे दोस्तों को टैग कर देता है। इस वायरस को आप भूलकर भी क्लिक नहीं करें। अगर आपका फेसबुक एकाउंट इस वायरस का शिकार हो गया है तो आप अपने ब्राउजर के एक्सेटेंशन से वायरस को तुरंत डिलीट करें और अपने प्रोफाइल पेज में जाकर सारे टैग किए हुए पोस्ट को डिलीट करे।

loading...
शेयर करें