फिल्म रिव्यू : अगर आप एडल्ट और थ्रिलर फिल्मों के शौकीन हैं तो आपके लिए है फोबिया

0

फिल्म का नाम : फोबिया

स्टार कास्ट : राधिका आप्टे, सत्यदीप मिश्र, अंकुर विकल, यशस्वनी ड्यामा और निवेदिता भट्टाचार्य

डायरेक्टर : पवन कृपलानी

स्टार : 2.5

डायरेक्टर पवन कृपलानी ने ‘रागिनी एमएमएस‘ और ‘डर एट द माल’ जैसी थ्रिलर फिल्मों के बाद एक बार फिर फिल्म ‘फोबिया’ ले कर आए है। यह एक मनोवैज्ञानिक थ्रिलर फिल्म है। जानिए कैसी है यह फिल्म…

फोबिया

कहानी: फिल्म की कहानी मुंबई के रहने वाली महक (राधिका आप्टे) से शुरू होती है। जिसे एक तरह का फोबिया है। महक को अलग-अलग समय में कई सारे दृश्य दिखाई देते हैं जिसे देखकर वो डरती रहती हैं, खुद को घर के भीतर कैद कर लेती हैं। महक की इस हालत की वजह से उसकी बहन और उसका दोस्त शान (सत्यदीप मिश्रा) उसे किसी अलग जगह पर शिफ्ट करते हैं।

नए घर में भी महक की हालत में कोई सुधार नहीं होता। जिसकी वजह से बहुत सारे उतार चढ़ाव सामने आते हैं, महक की हालत दिनो-दिन और बिगड़ती जाती है। कहानी में कई ट्विस्ट आते हैं जिसको जानने के लिए आपको फिल्म देखनी पड़ेगी।

डायरेक्शन: पवन कृपलानी ने फिल्म का डायरेक्शन बखूबी किया है। एक घर के भीतर होने वाली कई घटनाओं को दर्शाना काफी मुश्किल होता है, लेकिन डायरेक्टर ने यह काम काफी अच्छे से किया है।

एक्टिंग: फिल्म में राधिका आप्टे ने अच्छी एक्टिंग की है। एक ही घर भीतर अलग-अलग एक्सप्रेशन देने की कला का बखूब प्रदर्शन किया है. उनके चेहरे के भाव आपके साथ आसानी से कनेक्ट कर जाते हैं। वहीं सत्यदीप मिश्र की मौजूदगी भी फिल्म को और ज्यादा निखारती है।

म्यूजिक: फिल्म का बैकग्राउंड स्कोर अच्छा है जो कहानी की रफ्तार में सहायक साबित होता है।

देखें या नहीं : अच्छी एक्टिंग और थ्रिलर फिल्म देखना चाहते हैं तो एक बार जरूर देख सकते हैं।

loading...
शेयर करें