अगर आपने भी फ्रीडम 251 बुक किया है तो लुट चुके हैं आप

फ्रीडम 251 नई दिल्ली। अगर आपने फ्रीडम 251 स्‍मार्टफोन बुक कराया है तो आप लुट चुके हैं। इस स्‍मार्टफोन का पूरा सच अब सरकार के सामने आ चुका है। फोन बनाने वाली कंपनी ने जहां लाखों लोगों के साथ धोखा किया वहीं कंपनी ने मोदी सरकार के मेक इन इंडिया प्रोग्राम की छवि को भी तगड़ा झटका दिया है।

फ्रीडम 251 का पूरा सच

इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी विभाग के संयुक्‍त सचिव राजीव बंसल के सामने फोन बनाने वाली कंपनी रिंगिंग बेल्‍स ने अपनी कंपनी का प्‍लान बताया। सूत्रों के मुताबिक सबसे पहले कंपनी ने यह स्‍वीकार किया है‍ कि उन्होंने उत्पाद के लिए भारतीय मानक ब्यूरो (बीआईएस) की अनुमति तक नहीं ली। इसके बावजूद भी कंपनी ने लाखों लोगों से बुकिंग करवा ली। यहां तक की कंपनी ने फोन के कई विज्ञापन भी जारी किए।

कंपनी बाहर से आयात करेगी फोन

इसके बाद कंपनी ने ये भी माना कि मेक इन इंडिया के तहत बनने वाले इस फोन का निर्माण फिलहाल भारत में नहीं होगा। कंपनी की योजना पहले 50 लाख फोन आयात करने की है। इसके बाद कंपनी इसका निर्माण कार्य भारत में शुरू करेगी। आपको बता दें कि कंपनी के विज्ञापन लगातार ये दावा कर रहे हैं कि फ्रीडम 251 भारत निर्मित मोबाइल फोन है।

कीमत पर संशय कायम

इस स्मार्टफोन की कीमत पर तो पहले से ही सवाल उठते रहे हैं। लोगों को इस फोन की कीमत हजम नहीं हो रही। इसके सवाल पर कंपनी ने बताया कि उनके कई अन्‍य कंपनियों के साथ कॉमर्शियल समझौते हुए हैं। इसके तहत कई कंपनियों को अपने उत्‍पाद इस फोन के जरिए बेचने की अनुमति होगी। इससे कंपनी को राजस्‍व का फायदा होगा। इसी कारण कंपनी फोन की कीमत कम रखने में सफल होगी। कंपनी ने इस बात का खुलासा कर दिया है कि उसे अभी तक 30 हजार ग्राहकों से बुकिंग की कीमत प्राप्‍त हो चुकी है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button