बच्चे को सोता छोड़, पती पत्नी ने अलग-अलग कमरों में लगाई फांसी…

गाजियाबाद स्थित साहिबाबाद के इंदिरापुरम के ज्ञान खंड 1 में शुक्रवार सुबह एक फ्लैट में अलग-अलग कमरों में पति पत्नी का शव फंदे से लटका मिला। मृतक महिला ने मोबाइल से ग्रेटर नोएडा की रहने वाली बहन को मैसेज किया गया था। जानिए उसके बाद क्या हुआ और क्यों इस दंपती को अपने नौ माह के बच्चे का ख्याल भी नहीं आया मौत को गले लगाते वक्त…

बहन की सहेली ने मौके पर पहुंचकर देखा तो घटना के बारे में जानकारी हुई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने दोनों शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। परिवार मोर्चरी के बाहर शवों का इंतजार कर रहा है लेकिन इस वारदात के विषय में कुछ भी कहने से बच रहा है।

सुबह 3.45 बजे पल्लवी ने किया था मैसेज
इंदिरापुरम के ज्ञान खंड 1 में प्लॉट नंबर 328 में सेकंड फ्लोर पर निखिल पत्नी पल्लवी और 9 माह के बच्चे के साथ रहते थे। निखिल नोएडा की एक निजी कंपनी में सेल्स डिपार्टमेंट में काम करते थे। शुक्रवार सुबह तड़के 3:45 बजे पल्लवी  के मोबाइल से ग्रेटर नोएडा में रहने वाली उनकी बहन अंजलि को एक मैसेज प्राप्त हुआ। मैसेज में लिखा हुआ था कि बाबू घर पर अकेला है 6:00 बजे तक घर पहुंच जाएं।

अंजलि ने पहले पास में रहने वाली सहेली को भेजा था घर
अंजलि ने अपनी गाजियाबाद में रहने वाली एक सहेली को घर पहुंच कर जाकर देखने के लिए कहा तो घटना के बारे में जानकारी हुई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने दोनों शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है फॉरेंसिक टीम ने मौके से साक्ष्य जुटाए हैं। पल्लवी ने एक साल पहले नौकरी छोड़ दी थी और उसका पति नोएडा में एक प्राइवेट फर्म में काम करता था।

खून के मिले निशान
सीओ इंदिरापुरम अंशु जैन ने बताया कि सूचना पर पुलिस टीम मौके पर पहुंची थी महिला का शव फंदे पर लटका मिला था इसके बाद दूसरे कमरे में जाकर देखा तो पुरुष का शव फंदे पर लटका हुआ था मौके पर कुछ खून के निशान भी मिले हैं। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज कर मामले की जांच शुरू कर दी गई है पुलिस को मौके से कोई फिलहाल सुसाइड नोट नहीं मिला है। बच्चे को परिजन अपने साथ ले गए हैं।

Related Articles