वो तो हिलेरी थीं, अगर मैं होता तो ट्रंप को बुरी तरह हरा देता

0

वाशिंगटन। अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा का कहना है कि अगर राष्ट्रपति के तीसरे कार्यकाल का चुनाव लड़ने की इजाजत होती और वह चुनाव लड़ते तो डोनाल्ड ट्रंप को हराने के लिए पर्याप्त समर्थन जुटा लेते। ओबामा ने ‘सीएनएन’ को दिए साक्षात्कार में कहा, “मुझे विश्वास है कि यदि मैं दोबारा चुनाव लड़ता तो मुझे अमेरिकी लोगों की बहुसंख्या का समर्थन मिलता।”

बराक ओबामा

बराक ओबामा ने कहा कि देशभर के कई लोग उनकी सोच को सही मानते हैं

एफे न्यूज की रिपोर्ट के मुताबिक, ओबामा ने कहा कि देशभर के कई लोग उनकी सोच को सही मानते हैं और इसमें उनके विरोधी भी शामिल हैं। ओबामा ने कहा कि रिपब्लिकन सिर्फ लोगों को बांटने में व्यस्त रहते हैं। उन्होंने कहा कि ट्रंप की जीत का अर्थ यह नहीं है कि ‘एक सहिष्णु, विविध और खुले अमेरिका’ का सपना असफल हो गया है।

ओबामा ने कहा कि वह अपनी छोटी बेटी की हाईस्कूल की शिक्षा पूरी होने तक वाशिंगटन में ही रहेंगे। उन्होंने कहा कि राष्ट्रपति पद से हटने के बाद खुद को अधिक सक्रिय नहीं रखेंगे लेकिन महत्वपूर्ण मुद्दों पर बोलना बंद नहीं करेंगे क्योंकि वह देश के नागरिक हैं और यह उनका कर्तव्य है।

आठ नवंबर को हुए राष्ट्रपति चुनाव में डोनाल्ड ट्रंप ने डेमोक्रेटिक पार्टी की उम्मीदवार हिलेरी क्लिंटन को निर्वाचक मंडल मतदान प्रणाली में हरा दिया था, हालांकि हिलेरी को 30 लाख अधिक वोट मिले थे। ट्रंप 20 जनवरी को राष्ट्रपति पद की शपथ लेंगे।

loading...
शेयर करें