बलात्कार पीड़िता से शादी की शर्त पर हुई आरोपी की रिहाई

0

अहमदाबाद मे एक ताजा मामले में गुजरात हाईकोर्ट ने एक कम उम्र युवक को बलात्कार पीड़िता से शादी  करने के आदेश दिये। युवक पर इस युवती से बलात्कार के आरोप थे। और आदेश के अनुसार युवक ने दो  दिन पहले लड़की से शादी कर ली।

बलात्कार पीड़िता से शादी

इस अजीबोगरीब मामले में रेप के आरोपी युवक अमृत वाघेला की जमानत के लिए अन्य शर्तों के अलावा शादी भी एक शर्त थी। युवक को हाईकोर्ट से जमानत मिल गयी है। इस विवाह को रजिस्ट्रार के समक्ष दर्ज नहीं कराया जा सका है क्योंकि युवक की उम्र 21 साल पूरी नहीं हुई थी। जब कि कानून भारत में शादी की इजाजत देता है।

इस मामले में वाघेला महम्दाबाद का रहने वाला था। वह एक अल्पवयस्क लड़की को भगा ले गया था और उसके विरुद्ध निकोल थाने में एक अल्पवयस्क को उसके माता पिता की कस्टडी से निकाल कर बंधक बनाकर बलात्कार करने की रिपोर्ट हुई। जब युगल लौटा तो अभियुक्त को गिरफ्तार कर लिया गया और उसे साबरमती जेल में रखा गया।

बलात्कार पीड़िता से शादी करे आरोपी परिवार की यही थी मांग

अभियुक्त ने गत वर्ष सितम्बर में सेशन कोर्ट से जमानत मांगी जो कि लड़की के माता पिता के इस तर्क पर खारिज कर दी गयी कि यदि अभियुक्त बलात्कार पीड़िता से शादी नहीं करेगा तो उसका जीवन खराब हो जाएगा। लड़की उस समय तक अवयस्क थी।

जैसे ही लड़की बालिग हुई वाघेला हाईकोर्ट गया। लड़की ने हाईकोर्ट में कहा कि उसे अभियुक्त से शादी करने में कोई एतराज नहीं है। अभियुक्त को भी आपत्ति नहीं है। उसने लड़की से  शादी करने का वादा किया है।

मामले की सुनवाई के बाद न्यायमूर्ति जस्टिस एजे देसाई ने आदेश दिया कि वाघेला को दस हजार रुपये के जमानत बांड पर रिहा कर दिया जाए।कोर्ट ने आदेश में यह भी कहा कि वह अपनी रिहाई की तारीख से दो माह के भीतर लड़की से शादी करे। यह आदेश पांच जनवरी को हुआ था और दो दिन पहले शादी हो गयी है।

loading...
शेयर करें