बलूचिस्तान के सभी नेता आए पीएम मोदी के साथ, कहा – मिटा दो पाकिस्तान की हस्ती

0

नई दिल्ली 15 अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से उठाए गए सहयोग के शब्दों से खुश बलूच नेशनल मूवमेंट के नेताओं ने पाकिस्तान के दमनकारी शासन के खिलाफ अमेरिका और यूरोपीय देशों से समर्थन मांगा है। बलूचिस्तान नेशनल मूवमेंट के अध्यक्ष खलील बलूच ने कहा कि दुनिया को समझना चाहिए कि आतंकवाद को रोका नहीं जा सकता लेकिन इससे प्रभावी रूप से निपटना जरूरी है।

यह भी पढ़ें : हा‍फिज सईद ने पा‍क आर्मी चीफ से कहा – अपनी सेना को कश्मीर भेजो, करो कब्ज़ा

बलूचिस्तान

बलूचिस्तान के नेताओं ने पीएम मोदी का किया शुक्रिया

खलील ने कहा कि बलूच राष्ट्र आशा करता है कि पाकिस्तान के कब्जे के 68 साल के दौरान और पाकिस्तान से आजादी के लिए हुए पांच युद्धों में बलूच राष्ट्र में मानवता के खिलाफ हुए अपराधों और युद्ध अपराधों के लिए पाकिस्तान को जिम्मेदार ठहराने में अमेरिका और यूरोप प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का साथ देंगे। बलूचिस्तान पर मोदी के रूख का स्वागत करते हुए उन्होंने कहा कि पाकिस्तान के कब्जे वाले बलूचिस्तान में युद्ध अपराधों में नरसंहार और जातीय संहार को नजरअंदाज करने की अंतरराष्ट्रीय समुदाय ने जो नीति अपना रखी है वह चिंताजनक है।

बलूचिस्तान पर भारतीय प्रधानमंत्री का बयान सकारात्मक बदलाव है। बलूचिस्तान पर बयान के लिए मोदी का शुक्रिया अदा करते हुए बलूच रिपब्लिकन पार्टी के अध्यक्ष ब्रहमदाग बुगती ने वीडियो बयान जारी कर उम्मीद जताई कि भारत सरकार, भारतीय मीडिया और भारत देश न केवल बलूच राष्ट्र के लिए आवाज उठाऐंगे बल्कि आजाद बलूच अभियान में भी मदद देंगे। बुगती बलूच राष्ट्रवादी नेता नवाब अकबर बुगती के पोते हैं।

बलूचिस्तान पर क्या बोले थे पीएम मोदी

यह पहला मौका था जब लाल किले से पीएम की स्पीच में PoK और बलूचिस्तान का जिक्र किया गया। मोदी ने सोमवार को कहा था कि पिछले कुछ दिनों में बलूचिस्तान और पाक के कब्जे वाले इलाके के लोगों ने जिस तरह से मुझे बहुत-बहुत धन्यवाद दिया है इस पर मैं उनका तहे दिल से शुक्रिया अदा करना चाहता हूं। बता दें कि मोदी ने कुछ दिन पहले कश्मीर मसले पर ऑल पार्टी मीटिंग में कहा था कि पीओके भी भारत का हिस्सा है। गिलगित-बालटिस्तान और बलूचिस्तान में पाकिस्तान जो हिंसा कर रहा है, उसके बारे में भी बात होनी चाहिए। इस पर पीओके और बलूच के लोगों ने मोदी का शुक्रिया अदा किया था।

loading...
शेयर करें