तो क्या Dilwale के साथ नहीं रिलीज़ हो पाएंगी Bajirao Mastani

0

हैदराबाद| हिंदू जनजागृति समिति (एचजेएस) ने अपकमिंग हिंदी फिल्म ‘बाजीराव मस्तानी’ पर रोक लगाने की मांग की है। संगठन ने कहा है कि इसमें इतिहास को तोड़-मरोड़ कर पेश किया गया है। एचजेएस ने कहा कि केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड और केंद्र सरकार के संस्कृति विभाग में शिकायत दर्ज कराई गई है और मांग की गई है कि अगर इसमें मौजूद विकृत इतिहास को नहीं हटाया जाता है तो इसके प्रदर्शन पर रोक लगा दिया जाए।

433945-pinga

संजय लीला भंसाली की फिल्म ‘बाजीराव मस्तानी’ 18 दिसंबर को रिलीज होगी। फिल्म में रणवीर सिंह मराठा योद्धा पेशवा बाजीराव के किरदार में हैं, दीपिका मस्तानी का किरदार निभा रही हैं और प्रियंका चोपड़ा उनकी पत्नी काशीबाई के किरदार में हैं।

एचजेएस ने कहा है कि ‘पींगा पींगा’ में काशीबाई और मस्तानी साथ-साथ डांस कर रही हैं, लेकिन पेशवा के समय में महिलाएं परिवार की इज्जत होती थीं और वो डांस नहीं करती थीं।

एचजेएस के तेलंगाना के समन्वयक चंद्रा मोगर ने कहा, “दोनों ने तलवार चलाया था और दुश्मनों को परास्त कर वीरता का प्रदर्शन किया था। लेकिन ऐसा लगता है कि भंसाली ने इन शाही परंपराओं की स्टडी नहीं की और उन्होंने सिर्फ बॉलीवुड की परंपराओं का पालन किया है।”

 

loading...
शेयर करें