बाप-बेटे में अभी भी तकरार, अखिलेश बोले गठबंधन को तैयार तो मुलायम ने कहा-नहीं मंजूर

0

लखनऊ। विधानसभा चुनावों में मिली करारी हार के बाद विपक्षी पार्टियां मोदी लहर से डरी हुईं हैं। इसी मोदी लहर को रोकने के लिए सभी दल गठबंधन करने को तैयार हैं। कल पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भी इस बात के संकेत दिए थे। लेकिन मुलायम सिंह यादव ने इस बात से साफ इनकार कर दिया है।      अखिलेश यादव

अखिलेश यादव ने कहा-बीजेपी को रोकने के लिए गठबंधन को हम हैं तैयार

मुलायम सिंह यादव ने कहा है कि समाजवादी पार्टी किसी से भी गठबंधन नहीं करेगी। सपा अकेले चुनाव लड़ने में सक्षम है। कल ही पार्टी अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आने वाले चुनावों में गठबंधन करने के संकेत दिए थे।

गौरतलब है कि सपा के सदस्यता अभियान की शुरुआत करते हुए अखिलेश यादव ने कहा था कि हम तो हर एक का स्वागत करने वाले लोग हैं। हमने पहले भी स्वागत किया था, तब भी बहुत बड़ी खबर निकली थी। जब परिणाम उस समय नहीं आया था। हम तो अब भी तैयार हैं।

वहीँ इससे पहले बसपा सुप्रीमों मायावती ने भी कहा था कि अपने देश के लोकतंत्र को बचाने के लिए बीजेपी और ईवीएम की गड़बड़ी के विरुद्ध किए जा रहे संघर्ष में यदि बीजेपी विरोधी पार्टियां भी हमारे साथ आना चाहेंगी तो उनके साथ भी अब हमें हाथ मिलाने में कोई परहेज नहीं होगा।

मायावती ने बीजेपी को रोकने के लिए साथ विपक्षी दलों के साथ आने के संकेत दिए हैं। वहीं, अखिलेश भी कुछ दिन पहले उनसे हाथ मिलाने को तैयार दिखे थे। गौरतलब है कि वर्ष 2017 के चुनावों सभी पार्टियों को धोते हुए बीजेपी ने 403 में से 325 सीटें जीती थीं।

वहीं एसपी-कांग्रेस और बीएसपी तीनों की मिलाकर भी सिर्फ 73 सीटें ही हुईं थीं। इसके बाद सभी देश के अन्य विधानसभा चुनावों में एक पर कांग्रेस का कब्ज़ा हुआ तो चार पर बीजेपी। इसे देखते हुए सभी विपक्षी दल डरे हुए हैं और आने वाले चुनावों को लेकर गठबंधन की तैयारी में हैं।

loading...
शेयर करें