फिल्म रिव्यू : उठ गया राज से पर्दा, राजमाता के कहने पर कटप्पा ने बाहुबली को मारा

0

फिल्म का नाम : ‘बाहुबली : द कन्क्लूज़न’

स्टार्स : प्रभास, अनुष्का शेट्टी, राणा दग्गुबाती, तमन्ना भाटिया

निर्देशक : एस.एस. राजामौली

रेटिंग : 4.5

'बाहुबली : द कन्क्लूज़न'

‘बाहुबली : द कन्क्लूज़न’ फिल्म रिव्यू

मुंबई। ‘बाहुबली : द कन्क्लूज़न’ आज बॉक्स ऑफिस पर रिलीज़ हो गई है। जो सवाल पिछले एक साल से लोगों को परेशान कर रहा था आखिरकार आज उस सवाल का जवाब मिल जाएगा कि आखिर कटप्पा ने बाहुबली को क्यों मारा ? 9000 स्क्रीन्स पर रिलीज़ हुई ये फिल्म इतिहास रचने को तैयार है। आज से पहले शायद ही किसी फिल्म का इंतजार दर्शकों ने इतनी बेसब्री से किया होगा। बाहुबली के पहले पार्ट को तो लोगों ने खूब पसंद किया था, अब देखना होगा क्या दूसरा पार्ट लोगों को संतुष्ट कर पाएगा या नहीं। आइये फिल्म की समीक्षा करते हैं।

कहानी

फिल्म की शुरुआत फ्लैशबैक से होती है, जिसमें कटप्पा (सत्यराज) और शिवुडु उर्फ महेंद्र बाहुबली (प्रभास) के बीच बातचीत दिखाई जाती है।महारानी शिवगामी (राम्या कृष्णन) बाहुबली के राज्याभिषेक का एलान करती हैं। लेकिन उससे पहले कटप्पा और बाहुबली देश भ्रमण पर निकलते हैं। भ्रमण के दौरान ही बाहुबली की मुलाकात राजकुमारी देवसेना (अनुष्का शेट्टी) से होती है। उधर भल्लालदेव (राणा दग्गुबती) की नज़र सिंघासन पर रहती है।  जिसके लिए वो महारानी शिवगामी से कहकर कटप्पा की मदद से बाहुबली को मौत के घाट उतरवा देता है। और राज्य पर भल्लालदेव का अधिकार हो जाता है और वो देवसेना को बंदी बना लेता है। आगे की कहानी के लिए आपको सिनेमाघर तक जाना पड़ेगा।

डायरेक्शन

फिल्म का डायरेक्शन कमाल का है, फिर चाहे लोकेशन्स की बात हो या डायलॉग्स की सबकुछ परफेक्ट मोड पर रखा गया है। फिल्म का अधिकतर हिस्सा क्रोमा पर शूट हुआ है। वीएफएक्स इफेक्ट्स काबिले तारीफ हैं। राजामौली ने बेहतरीन काम किया है जहां गलती की गुंजाइश न के बराबर है।

एक्टिंग

वैसे तो फिल्म के सभी स्टार्स ने पहले की तरह जबरदस्त काम किया है। प्रभास और राणा दग्गुबती की मेहनत स्क्रीन पर साफ दिखाई दे रही है। एक्शन सीक्वेंस में अच्छा काम किया है। वहीं अनुष्का शेट्टी आपको काफी सरप्राइज करती है। मां के रोल में राम्या कृष्णन ने भी अच्छा काम किया है। तमन्ना भाटिया और सत्यराज का काम भी काफी सहज है।

म्यूजिक

फिल्म का म्यूजिक और बैकग्राउंड दोनों कहानी के साथ सटीक बैठते हैं।

देखें या नहीं

अगर आपने बाहुबली का पहला पार्ट देखा है तो उस अधूरी कहानी को पूरी करने के लिए आप इस फिल्म को मिस ना करें और पूरे परिवार के साथ जरूर जाएं।

loading...
शेयर करें