बिहार टॉपर्स कांड का मुख्य आरोपी बच्चा राय गिरफ्तार

0

पटना। बिहार की राजनीति इस समय गर्मायी हुई है। कभी बिहार को माफिया ने हिलाया तो कभी बिहार टॉपर्स कांड ने। इस मामले में बड़ी खबर आ रही है कि इस केस का मुख्‍य आरोपी बच्‍चा राय वैशाली से गिरफ्तार कर लिया गया है।

बिहार टॉपर्स कांड का मुख्‍य आरोपी करने वाला था आत्‍मसमर्पण

ऐसा बताया जा रहा है कि बिहार टॉपर्स कांड का मुख्‍य आरोपी बच्‍चा राय खुद ही आत्मसर्मपण करने आया था। पुलिस बच्चा राय की काफी दिनों से तलाश कर रही थी। बच्चा राय विशुन राय कॉलेज का प्रिंसिपल है।

बिहार टॉपर्स कांडVishun rai College

वैशाली में हुआ गिरफ्तार

बिहार टॉपर्स कांड के मुख्य आरोपी विशुन राय कॉलेज के प्रिंसिपल बच्चा राय ने पुलिस को चकमा देकर आत्मसर्मपण करने आया था लेकिन पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया। पुलिस उसकी तलाश में लगातार छापेमारी कर रही थी। लेकिन वह पुलिस के हाथ नहीं आ रहा था। उसकी तलाश में पुलिस ने कई लोगों से पूछताछ की और उसके सभी संभावित ठिकानों पर छापेमारी भी की थी।

बच्चा ने कहा ‘मैं निर्दोष हूं’

गिरफ्तार होने के बाद बच्‍चा राय ने कहा कि वो बेकसूर है। उसने कहा कि लालकेश्वर का इस मामले से कोई संबंध नहीं है।

टॉपर बनाने के लिए लेता था एक से दो लाख रुपये

बच्चा राय के कारनामों से वैशाली के लोग तंग आ चुके थे। वह कहते हैं कि बच्चा राय छात्रों को टॉप करवाने के लिए अनाप-शनाप रकम वसूलता था। वह इसके लिए एक लाख से दो लाख रुपये तक लेता था।

‘मार्कशीट और सर्टिफिकेट के लिए भी लेता था पैसे’

आरजेडी विधायक ने कहा था कि कई बार बच्चा राय बच्चों को मार्कशीट और सर्टिफिकेट नहीं देता था और इसके एवज में खूब बड़ी रकम वसूलता था। अगर कोई छात्र किसी की पैरवी पर आता तो भी बच्चा राय उससे एक्स्ट्रा पैसे चार्ज करता था।  हमें कई छात्रों और अभिभावकों से शिकायत मिली कि बच्चा राय उनकी मार्कशीट और सर्टिफिकेट नहीं दे रहा है।

बच्चा राय से आरजेडी का कोई रिश्ता नहीं

आरेजेडी विधायक सुबोध राय ने इसके साथ ही उन दावों को खारिज किया, जिसमें कहा गया कि बच्चा राय पूर्व में आरजेडी का नेता रह चुका है। उन्होंने कहा कि उसका आरजेडी से कोई संबंध नहीं रहा है। ना ही आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद यादव से ही कोई लिंक है।

loading...
शेयर करें