बीएस-3 वाहनों पर कोर्ट के आदेश के बाद कपंनियों की मदद के‍ लिए निकाला जाएगा कानूनी रास्ता

0

मुंबई। केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने कहा है कि शनिवार से बीएस-3 वाहनों की बिक्री पर सुप्रीम कोर्ट की रोक से प्रभावित ऑटो निर्माताओं की मदद के लिए सरकार कानूनी समाधान तलाशेगी।

बीएस-3 वाहनों की बिक्री

बीएस-3 वाहनों की बिक्री पर एक अप्रैल से लगी रोक

नितिन गडकरी ने कहा कि हम लोग अदालत के फैसले का सम्मान करेंगे। उसे लागू करते वक्त अगर कुछ कानूनी मदद ली जा सकती है तो हमलोग ऐसा करेंगे। उन्होंने माना कि बेहद सख्त उत्सर्जन नियंत्रण बीएस-6 व्यवस्था की ओर रूख करने से पहले उनके मंत्रालय ने इससे पहले ऑटो निर्माताओं को इन्वेंट्री बेचने की अनुमति दी थी।

भारी डिस्‍काउंट दे रहीं कंपनियां

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के मुताबिक कल से बीएस थ्री मानक वाली गाड़ियां नहीं बिकेंगी और ना ही ऐसी गाड़ियों का रजिस्ट्रेशन होगा। ऐसे में देश के कई शहरों में बाइक वाले पुराने मॉडल की गाड़ियों पर भारी डिस्काउंट दे रहे हैं। हालत तो ये हो गई है कि कई जगह बाइक खरीदने के लिए भारी भीड़ जमा हो गई और मारामारी की नौबत तक आ गई।

बीएस से पता चलता है कितना प्रदूषण होता है

बीएस यानी भारत स्टेज से पता चलता है कि आपकी गाड़ी कितना प्रदूषण फैलाती है। बीएस के जरिए ही भारत सरकार गाड़ियों के इंजन से निकलने वाले धुएं से होने वाले प्रदूषण को रेगुलेट करती है।

loading...
शेयर करें