‘मिशन 265’ के साथ यूपी चुनाव में उतरेगी बीजेपी

0

नई दिल्‍ली। यूपी विधानसभा चुनाव 2017 को लकर गहमागहमी मच चुकी है। बीएसपी चीफ मायावती रैली कर चुकी हैं तो सपा चीफ मुलायम सिंह ने शुक्रवार को प्रेस कॉफ्रेंस की। अब बात आती है बीजेपी की। बीजेपी के मिशन 265 की शुरुआत बीजेपी चार परिवर्तन यात्राओं से करेगी ये यात्रा अगले महीने पांच नवम्बर से शुरू होगी। बीजेपी की ये परिवर्तन यात्राएं यूपी की सभी 403 विधानसभा सीटों से होकर गुज़रेंगी।

bjp-logo

बीजेपी के मिशन 265 की सहारनपुर से होगी शुरुआत

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह पहली परिवर्तन यात्रा की शुरुआत पांच नवम्बर से सहारनपुर से करेंगे। बीजेपी के मिशन 265 के लिए दूसरी परिवर्तन यात्रा को केंद्रीय मंत्री उमा भारती 6 नवम्बर को ललितपुर से करेगी। तीसरी परिवर्तन यात्रा जिसकी शुरुआत केंद्रीय मंत्री कलराज मिश्रा 7 नवम्बर को बलिया से करेंगें। चौथी परिवर्तन यात्रा जिसकी शुरुआत गृह मंत्री राजनाथ सिंह 9 नवम्बर को सोनभद्र से करेंगे। बीजेपी की चारों यात्राओं का समापन 25 दिसंबर को होगा।

बीजेपी के मिशन 265

पीएम की रैली से परिवर्तन यात्रा का समापन

इन यात्राओं के समापन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लखनऊ में एक विराट रैली को संबोधित करेंगे। सूत्रों की माने तो बीजेपी की योजना है कि प्रधानमंत्री के हर महीने यूपी के अधिक से अधिक दौरे करें। इससे पहले पीएम मोदी सहारनपुर, इलाहाबाद, गोरखपुर, बरेली में पहले ही रैली कर चुके हैं।

जातिगत समीकरणों के हिसाब से रणनीति

दूसरी तरफ बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने जातिगत समीकरणों के हिसाब से अपनी चुनावी बिसात बिछानी शुरू कर दी है। बीजेपी अध्यक्ष ने ठाकुर वोट बैंक को लुभाने के लिए मायावती पर आपत्तिजनक बयान देने वाले दयाशंकर सिंह की पत्नी स्वाति सिंह को यूपी महिला मोर्चा का अध्यक्ष बना कर शुभारंभ कर दिया हैं। इससे पहले ब्राह्मण वोट बैंक के लिए शिवप्रताप शुक्ला को राज्यसभा भेजा गया।

सभी जातियों पर नजर

सूत्रों की माने तो बीजेपी नेतृत्व सभी जातियों और सभी समाज के बड़े नेताओं का इस्तेमाल चुनाव प्रचार में करेगी। जैसे मायावती के दलित वोट बैंक में सेंध लगाने के लिए बीजेपी ने बुद्ध भिक्षुकों की धम्म चेतना यात्रा को पूरे यूपी में निकलवाई और जिसका शनिवार को समापन अमित शाह की मौजूदगी में कानपुर में हो गया। बुद्ध भिक्षुकों की धम्म चेतना यात्रा ने यूपी की 250 विधानसभा सीट पर बीजेपी के लिये दलित वोट के तैयार किया है।

सर्जिकल स्ट्राइक को भी उछालने की तैयारी

इसी तरह बीजेपी इस चुनाव में भारतीय सेना के द्वारा किये गए पाक अधिकृत कश्मीर में सर्जिकल स्ट्राइक का राजनैतिक फायदा लेने के लिए सर्जिकल स्ट्राइक को राष्ट्र सुरक्षा और राष्ट्रवाद से जोड़कर चुनाव में जायेगी। बीजेपी रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर का आगरा और लखनऊ की तरह पूरे यूपी में सम्मान करा कर चुनाव तक सर्जिकल स्ट्राइक का माहौल बना कर फायदा लेने की भरपूर कोशिश करेंगी।

पीएम ने किया चुनावी आगाज

दूसरी तरफ दशहरा के दिन पीएम नरेंद्र मोदी ने जयश्री राम का नारा लगा कर अपने हिन्दू वोट बैंक पहले से भी ज्यादा मजबूत करने की शुरुआत कर दी है। विधानसभा चुनाव तक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमित शाह के मुख से इस तरह के नारे सैकड़ों बार सुनने को मिलेंगे।

हर बूथ को लेकर बन रही रणनीति

बीजेपी के सूत्रों की माने तो चुनावों के लिए बीजेपी ने यूपी में 87% बूथ हैं। 2014 के लोकसभा के चुनाव से पहले बीजेपी 37% बूथ पर थी। सूत्रों का ये भी कहना हैं कि सिर्फ अवध में तीनों पार्टियां बराबर हैं। आज़मगढ़ से रुहेलखंड तक बीजेपी की सिर्फ सपा से लड़ाई है। बीएसपी पूरे यूपी में कही भी लड़ाई में नहीं है इस लिये उनके सभी जनाधार वाले नेता एक एक कर मायावती का साथ छोड़कर जा रहे हैं। इन सब के बावजूद पार्टी ने अभी यूपी में मुख्यमंत्री पद का चेहरा तय नहीं किया है। सूत्रों का ये भी कहना है कि पार्टी समय रहते हुए एक बार फिर से सभी पहलुओं पर विचार करेगी और मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार तय करेगी।

loading...
शेयर करें