नोटबंदी से परेशान बैंककर्मी 7 फरवरी को करेंगे हड़ताल

0

दिल्ली। देश में नोटबंदी की मार सिर्फ जनता ही नहीं झेल रही है। इसका असर बैंक के कर्मचारियों पर भी हुआ है। क्योंकि जब से नोटबंदी हुई है तब से बैंककर्मी 12 से 16 घंटे काम कर रहे हैं जिससे उनमें आक्रोश व्याप्त हो गया है। बैंक कर्मचारियों का कहना है कि उन लोगों ने फैसला किया है कि 2 फरवरी को आरबीआई के बाहर प्रदर्शन करेंगे,और 7 फरवरी को एक बड़े आंदोलन की तैयारी में हैं।

बैंककर्मी

बैंककर्मी सरकार के रवैये से नाखुश, उनको नहीं मिल रहा ओवरटाइम का मुआवजा

ऑल इंडिया बैंक एम्पलॉयज एसोसिएशन के महासचिव सी एच वी वेंकेटचाल्म ने एक बयान भी जारी किया है। उसमें लिखा गया है, ‘सभी लोग नोटबंदी के दौरान बैंक कर्मचारियों, अधिकारियों और मैनेजर्स द्वारा किए गए काम की तारीफ कर रहे हैं कि हम लोगों ने हालात को काबू कर लिया। लेकिन हम लोगों द्वारा किए गए ओवरटाइम या काम को दिए गए ज्यादा घंटों के लिए उचित मुआवजा देने की सरकार की तरफ से कोई मंशा नहीं जाहिर की गई है, हम लोगों ने ऐसा नहीं सोचा था।

7 फरवरी को होने वाली हड़ताल में ऑल इंडिया बैंक ऑफिसर्स एसोसिएशन, बैंक एंम्लायज फेडरेशन ऑफ इंडिया इस प्रदर्शन और हड़ताल में शामिल होने वाले हैं। यूनियन्स का कहना है कि वे लोग नोटबंदी से हुई परेशानी के साथ-साथ बैंक के डिफॉल्टर्स पर कड़ा एक्शन लेने के लिए कह रहे हैं। बता दें कि प्रधानमंत्री मोदी ने 8 नवंबर को नोटबंदी का ऐलान किया था। इसके तहत 500 और 1000 रुपए के नोट बंद करने का ऐलान किया गया था। साथ ही 500 और 2000 के नए नोट चलन में आए थे।

Edited by- Shailendra verma

 

loading...
शेयर करें