मूवी रिव्यू : अगर टाइम पास करना हो तो देखें ‘बैंजो’

0

फिल्म का नाम: बैंजो
डायरेक्टर: रवि जाधव
स्टार कास्ट: रितेश देशमुख, नरगिस फाकरी, धर्मेश येलांडे
अवधि: 2 घंटा 17 मिनट
सर्टिफिकेट: U/A
रेटिंग: 2.5 स्टार

 बैंजो

बैंजो का फिल्म रिव्यू

डायरेक्टर रवि जाधव की फिल्म बैंजो बॉक्स ऑफिस पर आज रिलीज़ हो गई है। रवि ने कई मराठी फिल्में बनाई हैं लेकिन बैंजो उनकी पहली हिन्दी फिल्म है। आइए फिल्म की समीक्षा करते हैं और देखते हैं अपनी पहली हिन्दी फिल्म में रवि कितने सफल हुए हैं।

कहानी 

फिल्म की कहानी न्यूयॉर्क की रहने वाली लड़की क्रिस (नरगिस फाकरी) से शुरू होती है। क्रिस मुंबई के एक बैंजो बजाने वाले म्यूजिक बैंड की तलाश है। वो म्यूजिक बैंड के साथ मिलकर 2 गाने रिकॉर्ड करके न्यूयॉर्क में होने वाले एक म्यूजिक कॉम्पिटिशन में देना चाहती है। मुंबई आते ही क्रिस की मुलाक़ात तरात (रितेश देशमुख) और उसके बैंड के दोस्तों से होती है। तरात वहां के लोकल मंत्री के लिए काम भी करता है, साथ ही अपने तीन दोस्तों पेपर, ग्रीस और वाजा के साथ फंक्शन्स में परफॉर्म भी करता है। लेकिन इसी बीच कुछ ऐसी घटनाएं घटने लगती हैं जिसकी वजह से बैंड के मेम्बर्स के बीच मतभेद होने लगते हैं, और कहानी में कई सारे ट्विस्ट आते हैं। जिसे जानने के लिए आपको फिल्म देखनी पड़ेगी।

डायरेक्शन

फिल्म का डायरेक्शन कमाल का है। रवि ने फिल्म बनाते वक्त छोटी- छोटी बातों का भी ध्यान रखा है। मुंबई के अलग- अलग इलाकों को अच्छी तरह से दर्शाया गया है। फिल्म में कॉमेडी, रोमांस और इमोशन सबका तड़का है। हालांकि इंटरवल के बाद की फिल्म आपको ज्यादा पसंद आएगी। इतना सब होने के बाद भी फिल्म में कुछ अधूरापन सा लगता है। कहीं- कहीं फिल्म थोड़ी खीची हुई लगी जिसे और छोटा किया जा सकता था।

एक्टिंग 

फिल्म में रितेश देशमुख, नरगिस फाकरी, के साथ बाकी सभी ने बहुत अच्छा काम किया है। फिल्म की कास्टिंग करेक्ट है।

म्यूजिक

फिल्म का म्यूजिक अच्छा है और हर गाने को फिल्म से जोड़ने की पूरी कोशिश की गई है। लेकिन कुछ गाने कम किए जा सकते थे। इतने गानों की जरूरत नहीं थी।

देखें या नहीं

अच्छे म्यूजिक और रितेश देशमुख के फैन हैं तो एक बार ये फिल्म देख सकते हैं।

loading...
शेयर करें