बौद्ध सर्किट से जुड़ेंगे श्रावस्ती, कुशीनगर व कपिलवस्तु

0

श्रावस्ती। बौद्ध पर्यटन स्थली श्रावस्ती के दिन बहुरने वाले हैं। बौद्ध सर्किट विकास योजना के तहत यहां भी विश्व पर्यटन स्तर की सुविधाएं उपलब्ध होंगी। केन्द्रीय पर्यटन सचिव विनोद जुत्सी ने यहां पहुंच कर जायजा लिया। उन्होंने बताया कि श्रावस्ती, कुशीनगर और कपिलवस्तु को एक सर्किट से जोड़ कर विकास कार्य कराया जाएगा। जिसकी रिपोर्ट प्रधानमंत्री को सौंप दी जाएगी।

श्रावस्ती

श्रावस्ती में हैं विकास की संभावनाएं

श्रावस्ती के विकास की संभावनाओं को तलाशने आए केन्द्रीय पर्यटन सचिव विनोद जुत्सी ने जेतवन विहार, थाई डेन महामंकोल मंदिर और सहेट-महेट आदि का निरीक्षण किया। उन्होंने बताया कि बौद्ध सर्किट का विकास करने के लिए केन्द्र सरकार तेजी से काम कर रही है।

यहां एक म्यूजियम बनेगा, जिसमें भगवान बुद्ध की जीवनी सजीव प्रदर्शित की जाएगी। यह विश्व स्तर का होगा। उन्होंने कहा कि वर्मा मंदिर के बाद अंतर्राष्ट्रीय स्तर का यात्री सुविधा केन्द्र और पार्किंग का भी निर्माण कराया जाएगा। इसी के साथ इस जगह को हवाई सुविधा से जोड़ने के लिए कटरा एयरपोर्ट को चालू कराया जाएगा।

loading...
शेयर करें