बड़ा फैसला : अब नेता नहीं Indian Army करेगी पाकिस्तान का फैसला

0

नई दिल्ली। उरी हमले में भारतीय सेना के 18 जवान शहीद हो गए हैं। वहीं कई जवान बुरी तरह से घायल हो गए हैं। सेना ने सर्च ऑपरेशन पूरा होने का भी ऐलान कर दिया है। सैन्य अभियान के महानिदेशक (डीजीएमओ) लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिंह ने कहा कि पाकिस्तान के खिलाफ कार्रवाई कब और कहां होगी, इसका फैसला हम करेंगे।

उरी हमले

उरी हमले के बाद हुई आपातकाल बैठक

रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने श्रीनगर दौरे से लौटते ही सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को उरी हमले की रिपोर्ट सौंपी है। जिसके बाद पीएम हाईलेवल मीटिंग की। इस बैठक में तय हुआ कि पड़ोसी के प्रति अब आक्रामक रुख अपनाए जाने की जरूरत है।

बताया जा रहा है कि सरकार अब सीमा पार की नापाक कार्रवाई का हथियारों से जवाब दे सकती है। पीएम मोदी के साथ मीटिंग में तय हुई रणनीति के तहत हमले के मास्टरमाइंड पर भी वार की तैयारी है। जबकि अंतरराष्ट्रीय मंच पर यूएन में भी भारत पाकिस्तान को घेरने की फिराक में है।

पाकिस्तान को मिलेगा मुंहतोड़ जवाब

सरकार के लिए देश की आंतरिक सुरक्षा सबसे बड़ी प्राथमिकता है। सीमावर्ती इलाकों में पाकिस्तान के जिन पोस्ट से घुसपैठ को बढ़ावा मिला है या सीजफायर का उल्लंघन किया गया। उनको मुंहतोड़ जवाब दिया जाएगा। इसके साथ की गृह मंत्रालय जम्मू-कश्मीर पर सीमा पर सुरक्षा को पुख्ता करने के लिए ऑपरेशन चलाएगी।

पाकिस्तान के साथ कूटनीतिक और आर्थिक मोर्चों पर भी आक्रामक रवैया अपनाया जाएगा। इस बैठक में पाकिस्तान को आतंकी प्रायोजक देश घोषित करने पर भी चर्चा हुई। भारत संयुक्त राष्ट्र के साथ मिलकर पाकिस्तान को आतंक को प्रयोजित करने वाला देश घोषित करने की मांग करेगा।

loading...
शेयर करें