कुत्तों के आगे हड्डी डालो तो लड़ने लगेंगे, ऐसे ही चचा-भतीजे लड़ रहे हैं

0

पीलीभीत। चुनाव को लेकर घमासान शुरू हो चुका है। आरोप प्रत्यारोप का दौर भी जारी है। नेता अपनी मर्यादाओं की सीमा लांघने से भी नहीं चूंक नहीं रहें हैं। इसी बीच उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा सांसद भगत सिंह कोश्यारी ने कुछ ऐसा कह दिया है जिससे सियासी जगत में एक नया विरोध शुरू हो सकती है।

भगत सिंह कोश्यारी

भगत सिंह कोश्यारी ने  मुलायम सिंह यादव, ममता बनर्जी, सोनिया गांधी पर भी कसा तंज

दरअसल बुधवार को पीलीभीत में भाजपा की परिवर्तन यात्रा के दौरान भगत सिंह कोश्यारी जनसभा को संबोधित कर रहे थे। तभी मंच के आगे दो कुत्ते आकर बैठ गए। कुत्तों की तरफ इशारा करते हुए कोश्यारी ने कहा कि जैसे इन दोनों के आगे हड्डी डालो तो लड़ने लगेंगे, ऐसे ही चचा-भतीजे लड़ रहे हैं।

इस दौरान भगत सिंह कोश्यारी ने बसपा सुप्रीमो पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा कि मायावती सोच रही थीं कि यूपी में गुल खिला देंगी, लेकिन उन्हें नहीं पता। इस बार यूपी में कमल का फूल खिलेगा। भाजपा सांसद ने कहा कि नोटबंदी से सबसे बड़ा सदमा मायावती को लगा है। अब वो कह रही हैं कि पुराने नोट ले जा और नए नोट ले आ।

भगत सिंह कोश्यारी ने मुलायम सिंह यादव, ममता बनर्जी, सोनिया गांधी पर भी तंज कसा। उन्होंने कहा कि नोटबंदी हमारे तुम्हारे लिए नहीं। हम लोगों के लिए नोटबदली है। नोटबंदी तो माया, ममता, मुलायम और सोनिया के लिए है, जिनके पास अरबों रुपए हैं। उनके 2017 में नोट भी बंद और वोट भी बंद जाएंगे। भाजपा सांसद ने कहा कि नोटबंदी के बाद राहुल गांधी ने लाइन में लगकर चार हजार रुपए निकाले और फोटो खिंचवाया। अगर 2017 में भाजपा की सरकार आएगी तो जनता लाइन में नहीं होगी सिर्फ राहुल गांधी ही लगेंगे।

इससे पहले पीलीभीत पहुंची भाजपा की परिवर्तन यात्रा का जगह जगह जोरदार स्वागत किया गया। इस दौरान टिकट के दावेदार शक्ति प्रदर्शन करने में भी पीछे नहीं रहे। परिवर्तन यात्रा में भगत सिंह कोश्यारी के साथ केंद्रीय राज्य मंत्री संतोष गंगवार, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष सूर्य प्रताप शाही समेत कई भाजपा नेता मौजूद थे। वहीं पीलीभीत की सांसद और केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी परिवर्तन यात्रा में शामिल नहीं हुईं।

loading...
शेयर करें